Nibandh

पोस्ट ऑफिस पर निबंध

ADVERTISEMENT

डाकघर एक केन्द्रीय संस्थान है जो लोगों द्वारा प्रेषित लिफाफों, पोस्ट कार्ड, मनी आर्डर और सामान को गन्तव्य स्थल तक पहुचाने का काम करते हैं। साथ ही ये पोस्ट कार्ड और डाक टिकेट के अलावा बचत योजनाएं, पेशन सेवाएं तथा लोकर की भूमिका निभाती है।

डाकघर एक सरकारी कार्यालय है। यहाँ से पत्र एक स्थान से दूसरे स्थान भेजे जाते हैं। डाकघर को पोस्ट आफिस भी कहते हैं। डाकघर से हम पोस्टकार्ड, अंतर्देशीय-पत्र और लिफाफे खरीदते हैं। डाकघर से हम टिकट भी खरीदते हैं। अपने घर से कही भी दूर रहकर भी अपने परिवार और रिश्तेदारों को अपने संदेश अथवा कोई वस्तु आसानी से डाक के जरिये प्रेषित कर सकते हैं। डाकघर के जरिये हम पंजीकृत पत्र, जन्मदिन की शुभकामनाएं, पार्सल और मनी ऑर्डर आदि भेज सकते हैं।

डाकघर से हम किसी को पारसल भेज सकते हैं। यहाँ से हम मनीआर्डर द्वारा रुपये भी भेज सकते हैं। डाकघर में बचतखाता भी होता है। सार्वजनिक जीवन में उपयोग आने वाली महत्वपूर्ण संस्थाओं में डाकघर भी हैं। इसकी मदद से हम अपने पार्सल या कागजात को कही भी भेज सकते है अथवा घर बैठे आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।

बदलते वक्त और संचार के साधनों में वृद्धि के साथ ही डाक घर और डाक प्रणाली की उपयोगिता जरुर कम हुई है मगर फिर भी इसका महत्व खत्म नहीं हुआ हैं। डाक पत्र वितरित करने वाले पोस्टमैन (डाकिया) के साथ हमारे विशिष्ट सम्बन्ध होते हैं। कई बार हम ऑनलाइन खरीददारी की डिलीवरी भी डाक के जरिये पोस्ट ऑफिस से ही प्राप्त करते हैं।

डाकघर ने हमारे जीवन में कई मुश्किलों को सरल किया हैं। सरकारी योजनाओं से जुड़े लाभ हमें डाक के जरिये ही प्राप्त होते हैं। विद्यार्थी, वृद्ध, महिलाओं के लिए छोटी छोटी बचत योजनाएं जीवन में कई बार बहुत कारगर साबित होती हैं। डाकघर हमारे समय और धन दोनों की बचत कर आवश्यक वस्तु को हमारे द्वार तक पहुचाता हैं, एक तरह से जीवन में डाकघर जनसेवा केंद्र की भूमिका निभाकर अपनी उपयोगिता सिद्ध कर रहे हैं।

डाकघर तरह-तरह से जनता की सेवा करता है। मध्य-वर्ग के लिए यह वरदान से कम नहीं हैं, उन्हें बहुत कम खर्च में अत्यधिक सुविधाएं डाकघर उपलब्ध करवाता हैं।

Nibandh Category

डाकघर की उपयोगिता पर निबंध | Essay on The Utility of the Post Office in Hindi

essay on postal service in hindi

ADVERTISEMENTS:

डाकघर की उपयोगिता पर निबंध | Essay on The Utility of the Post Office in Hindi!

सरकार अपने विभिन्न विभागों के माध्यम से जनसेवा के कार्य संपन्न करती है । विभाग दो प्रकार के होते हैं- प्रमुख और गौण । शिक्षा, आयकर, आबकारी आदि गौण विभाग हैं ।

यदि इन विभागों के कर्मचारी अपनी माँग पूरी कराने के लिए किसी समय हड़ताल कर दें तो कुछ दिनों तक सरकारी कार्य चलना रहना है । रेलवे, सेना, पुलिस आदि प्रमुख और अत्यंत आवश्यक विभाग हैं । इनके कर्मचारियों के किसी कारण हड़ताल करने पर जनसेवा का सारा काम ठप हो जाता हें । डाक विभाग भी ऐसा ही प्रमुख विभाग है । इसके कार्यों में रुकावट आने पर सरकार अपंग हा जाना है ।

राज्यों की राजधानी में डाक विभाग का एक प्रादेशिक कार्यालय होता है । राज्य के विभिन्न छोटे-बड़े स्थानों में स्थापित डाकघर उसी की देखरेख में कार्य करते हैं । बड़े-बड़े नगरों में एक प्रधान डाकघर होता है । उसके अंतर्गत नगर के स्थानों में अनेक छोटे-बड़े डाकघर होते हैं । बड़े-बड़े कस्बे और ग्रामों में केवल एक डाकघर होता है । डाकघर के प्रमुख अधिकारी को ‘पोस्ट मास्टर’ कहते हैं ।

डाकघरों में पोस्ट मास्टर के अतिरिक्त आवश्यकतानुसार डाकिया होते हैं । नगर के उप-डाकघरों में पोस्ट मास्टर की सहायता के लिए एक अथवा दो कर्मचारी रहते हैं, किंतु बड़े और प्रमुख डाकघरों में डाक संबंधी विभिन्न प्रकार के कार्यों के लिए कई कर्मचारी होते हैं । प्रत्येक डाकघर दस बजे खुलता है और पाँच बजे बंद हो जाता है ।

डाकघर का प्रमुख कार्य है- बाहर से आई हुई डाक, पार्सल, मनीऑर्डर, पत्र आदि को पावती के घरों तक पहुँचाना और उस स्थान की डाक को बाहर भेजने की व्यवस्था करना, जिसमें वह स्थित है । कस्बों के डाकघरों में कार्य-भार अधिक नहीं होता, इसलिए दोनों कार्य वहाँ के डाकिए एक साथ ही साथ लेते हैं । नगर के प्रमुख तथा केंद्रीय डाकघरों में कार्य-भार अधिक होता है, इसलिए वहाँ दोनों प्रकार के कार्यों के अलग-अलग उप-विभाग होते हैं ।

एक उप-विभाग बाहर से आई हुई डाक को नगर में वितरण कराने का कार्य करता है और इसके साथ ही नगर के विभिन्न स्थानों में स्थापित पत्र-पेटिकाओं में संगृहीत पत्रों तथा उप-डाकघरों से आए हुए रजिस्टर्ड पत्रों, पार्सलों, मनीऑर्डरों आदि को उनके गंतव्य स्थानों के अनुसार उनकी छँटाई करता है और फिर उन्हें थैलों में भरकर डाक ढोनेवाली लाल रंग की मोटर से स्टेशन तक पहुँचाता है ।

स्टेशन से विभिन्न दिशाओं की ओर जानेवाली रेलगाड़ियों द्वारा डाक बाहर भेजी जाती है । डाक ले जानेवाली रेलगाड़ियों में लाल रंग का एक बड़ा डिब्बा लगा रहता है । उसके कर्मचारी पत्रों आदि को छाँटकर पत्रों के थैलों को गंतव्य स्थान के स्टेशनों पर उतार देते हैं ।

प्रमुख डाकघर के दूसरे उप-विभाग का संबंध जनसेवा से रहता है । यह उप-विभाग कार्य की सुविधा के लिए कई शाखाओं में विभाजित रहता है । डाकघरों में एक खिड़की पर पोस्टकार्ड, टिकट, लिफाफे आदि मिलते हैं तो दूसरी खिड़की पर मनीऑर्डर लिये जाते है तीसरी खिड़की पार्सलों के लिए होती है, चौथी खिड़की पर पत्रों की रजिस्ट्री होती है और पाँचवीं खिड़की सेविंग बैंक की होती है । खिड़कियों पर नियुक्त कर्मचारी अपना कार्य अत्यंत सावधानी और तत्परता से करते हैं ।

तारघर की व्यवस्था एक अलग कमरे में की जाती है । उसके कर्मचारी भी अलग होते हैं । उनका अपना विभाग होता है । नगरों में डाकघर से संबंधित तारघर केवल तार भेजने का कार्य करता है । बाहर से आए हुए तारों कों वह प्राप्त नहीं करता ।

नगर के समस्त तारों को बाहर भेजने और नगर में आए हुए समस्त तारों को पते के अनुसार वितरित कराने का कार्य नगर का केंद्रीय तारघर करता है । तार संबंधी दोनों कार्यों के लिए दो उप-विभाग होते है । एक उप-विभाग बाहर तार भेजता है और दूसरा उप-विभाग बाहर से आए हुए तारों का वितरण कराता है । ये तारघर दिन-रात खुले रहते हैं ।

डाकघर हमारे लिए बहुत उपयोगी है । यह जनसेवा का मुख्य केंद्र है । प्राय: सभी वर्गों के लोग इससे लाभ उठाते हैं । व्यापारियों के लिए तो यह वरदान ही है । इसके द्वारा उन्हें अपने व्यापार में अत्यधिक सुविधा रहती है ।

समाचार-पत्र भी हवाई डाक से भेजे जाते हैं । तार से समाचार ही नहीं, मनीऑर्डर भेजने की भी सुविधा है । ऐसी स्थिति में डाक विभाग को अपना पूरा सहयोग देना जनता का परम कर्तव्य है और उसके कर्मचारी धन्यवाद के पात्र हैं ।

Related Articles:

  • रेडियो की उपयोगिता पर निबंध | Essay on Usefulness of Radio in Hindi
  • भारत में वन-संपदा की उपयोगिता | Essay on Utilization of Forest Resources in India in Hindi
  • इंटरनेट की उपयोगिता पर निबंध | Essay on Internet Usability in Hindi
  • फलों की उपयोगिता पर निबंध | Essay on the Importance of Fruits in Hindi

डाकिया पर निबंध 10 lines (Essay On Postman in Hindi) 100, 150, 200, 300, 500, शब्दों मे

essay on postal service in hindi

Essay On Postman in Hindi – एक डाकिया हमेशा हमारे समाज का एक महत्वपूर्ण हिस्सा रहा है। उनके कार्य में प्रतिदिन समय पर डाकघर को रिपोर्ट करना, पतों के अनुसार पत्रों को छाँटना, उन्हें सावधानीपूर्वक अपने बैग में रखना, उन्हें सही पते पर पहुँचाना और शाम को डाकघर में वापस रिपोर्ट करना शामिल है। वह पोस्टमास्टर को रिपोर्ट करता है और उसके निर्देशों का पालन करता है। उनका काम कठिन है लेकिन वह अपने सभी कर्तव्यों को मुस्कुराते हुए निभाते हैं। वह उन लोगों के चेहरे पर भी मुस्कान लाते हैं, जिन्हें उनके द्वारा भेजे गए पत्र, उपहार और मनी ऑर्डर मिलते हैं।

बच्चों के लिए पोस्टमैन पर 10 पंक्तियाँ (10 Lines Essay On Postman For Kids (100-150 words)

  • डाकिया एक सरकारी कर्मचारी होता है।
  • डाकिया एक सरल, मेहनती और ईमानदार आदमी है।
  • डाकिया डाकघर में काम करता है।
  • वह खाकी रंग के कपड़े पहनता है।
  • वह सिर पर खाकी पगड़ी/टोपी पहनते हैं।
  • वह आवासों और व्यवसायों को पत्र, धनादेश, पार्सल और पोस्ट वितरित करता है।
  • वह खुशी और गम दोनों की खबर लाता है।
  • वह चमड़े का झोला ले जाने के लिए जाने जाते हैं।
  • एक डाकिया आम तौर पर साइकिल पर यात्रा करता है जबकि अन्य पैदल जाते हैं।
  • डाकिया हमारा समाज मित्र है।

डाकिया पर लघु निबंध 200 शब्द (Short Essay on Postman 200 words in Hindi)

एक डाकिया एक समुदाय सहायक है। वह समाज के लिए उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि अन्य सामुदायिक सहायक जैसे एक डॉक्टर, एक शिक्षक, एक पुलिसकर्मी और एक सब्जी बेचने वाला। वह लोगों को एक-दूसरे तक संदेश पहुंचाकर उन्हें जोड़ने में मदद करता है।

एक डाकिया खाकी वर्दी पहनता है और कंधे पर पत्रों से भरा बैग रखता है। वह साइकिल पर सवार होकर विभिन्न पतों पर पत्र पहुंचाने के लिए सड़कों पर घूमता है। उसे यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि प्रत्येक पत्र सही पते पर पहुंचे। उसे यह भी सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि पत्र समय पर वितरित किए जाएं। बहुत से लोग पत्रिकाओं और समाचार पत्रों की सदस्यता लेते हैं। ये भी डाकिया द्वारा वितरित किए जाते हैं। यदि वह अपना कर्तव्य ठीक से नहीं करता है तो उसे फटकार लगाई जाती है।

पोस्टमैन का पेशा काफी कठिन होता है। उसे कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है जैसे कि दिन भर साइकिल चलाना, भले ही बाहर कोई भी मौसम क्यों न हो। चाहे बरसात हो, हवा हो या धूप, एक डाकिया छुट्टी नहीं ले सकता। उन्हें पत्र बांटने के लिए अपनी साइकिल पर बाहर जाने की जरूरत है ताकि लोग कोई महत्वपूर्ण संदेश न चूकें। यह शारीरिक रूप से काफी ज़ोरदार हो सकता है। हालांकि, वह अपना काम पूरी लगन से करते हैं। शाम तक उसे डाकघर को रिपोर्ट करने की जरूरत है। पोस्टमास्टर की अनुमति के बाद ही उन्हें घर जाने दिया जाता है।

कड़ी मेहनत के बावजूद एक डाकिया को अच्छा वेतन नहीं मिलता है। मेरी इच्छा है कि सरकार डाकियों के भत्ते में वृद्धि करे।

इनके बारे मे भी जाने

  • I Love My Family Essay
  • Jawaharlal Nehru Essay
  • My Favourite Book Essay
  • Natural Disasters Essay

डाकिया पर निबंध 300 शब्द ( Essay on Postman 300 words in Hindi)

‘डाकिया का महत्व’

प्राचीन समय में, लोग दूर देशों में रहने वाले अपने प्रियजनों को संदेश देने के लिए कबूतरों पर निर्भर थे। हालाँकि, जैसे-जैसे चीजें बदलीं, इन्हें एक अधिक विश्वसनीय माध्यम से बदल दिया गया। डाकघर अस्तित्व में आए और डाकियों को महत्वपूर्ण पत्र, पार्सल और दस्तावेज वितरित करने के लिए काम पर रखा गया।

पहले के समय में डाकिया का महत्व

एक डाकिया उस समय के सबसे महत्वपूर्ण सामुदायिक सहायकों में से एक था जब फोन नहीं थे। लोग अपने रिश्तेदारों और दोस्तों के साथ दूर देशों में रहने वाले हस्तलिखित पत्रों के माध्यम से संवाद करते थे जो डाकियों द्वारा वितरित किए जाते थे।

चूंकि बैंक आसानी से उपलब्ध नहीं थे और एटीएम भी नहीं थे, इसलिए लोग अक्सर मनीऑर्डर भेजते थे। डाक के माध्यम से उपहार और अन्य महत्वपूर्ण पार्सल भी भेजे गए। एक अत्यावश्यक संदेश भेजने की स्थिति में एक तार भेजा गया था। इस प्रकार डाकिया की भूमिका अतीत में बड़ी जिम्मेदारी की थी।

लोग पैसे और महत्वपूर्ण संदेश और चीजें प्राप्त करने के लिए उस पर भरोसा करते थे। वे हर दिन डाकिया का बेसब्री से इंतजार करते थे।

आधुनिक समय में डाकिया का महत्व

यह कहना गलत नहीं होगा कि फोन और ईमेल के आने से पोस्टमैन का महत्व कुछ हद तक कम हो गया है। लोग एक-दूसरे को लंबे पत्र लिखने के बजाय संदेश देने के लिए त्वरित संदेश या ईमेल भेजते हैं। उन्हें अब एक-दूसरे से सुनने के लिए दिनों का इंतजार नहीं करना पड़ेगा।

वे बस अपने प्रियजनों के साथ-साथ व्यावसायिक सहयोगियों को कॉल या टेक्स्ट कर सकते हैं और उनसे तुरंत जुड़ सकते हैं। पैसे के हस्तांतरण और दस्तावेज़ प्राप्त करने सहित सभी बैंकिंग लेनदेन भी ऑनलाइन किए जाते हैं। लोग इन दिनों मनीऑर्डर मुश्किल से भेजते हैं।

हालाँकि, हस्तलिखित पत्र प्राप्त करना अभी भी एक बहुत अच्छा एहसास है। पोस्टमैन का महत्व भले ही समय के साथ कम हो गया हो लेकिन वह अभी भी हमारे समुदाय का एक अनिवार्य हिस्सा है। वह अभी भी कई महत्वपूर्ण पदों जैसे विश्वविद्यालय के परिणाम, प्रवेश पत्र, साप्ताहिक/मासिक पत्रिकाएं, और पसंद करता है।

हालाँकि अब हम संचार के इलेक्ट्रॉनिक माध्यमों की ओर स्थानांतरित हो गए हैं, फिर भी एक डाकिया की भूमिका अभी भी महत्वपूर्ण है। यह देखकर अच्छा लगता है कि अधिकांश डाकिया अपने कर्तव्यों को ईमानदारी और समर्पण के साथ निभाते हैं।

डाकिया पर निबंध 500 शब्द (Long Essay on Postman 500 words in Hindi)

जब हम डाकिया शब्द कहते हैं, तो खाकी वर्दी पहने एक पुरुष की छवि हमारे दिमाग में आती है जो साइकिल की सवारी करता है। हालांकि, क्या कभी किसी ने सोचा है कि वह हमारे लिए कितने महत्वपूर्ण हैं। डाकिया कौन होता है और क्या करता है, इससे लगभग सभी परिचित हैं। वह जनता के लिए काम करता है और डाकघर में नियुक्त किया जाता है।

एक डाकिया को मूल रूप से महत्वपूर्ण दस्तावेजों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंचाना होता है। वह पत्र, धनादेश, ग्रीटिंग कार्ड, पार्सल और बहुत कुछ का वाहक है। ऐसा करने के लिए वह घर-घर और गली-गली जाता है। एक डाकिया एक प्रसिद्ध व्यक्ति है। वह एक लोक सेवक है। वह डाकघर में काम करता है। वह घर-घर और गली-गली में पत्र, मनीऑर्डर, पार्सल, ग्रीटिंग कार्ड आदि पहुंचाता है। उनकी सेवाएं बहुत महत्वपूर्ण हैं क्योंकि वे महत्वपूर्ण दस्तावेजों के सुचारू वितरण में मदद करती हैं।

एक डाकिया का महत्व

एक डाकिया एक समाज के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। वह पेशेवर और व्यक्तिगत दोनों कारणों से बहुत महत्वपूर्ण सूचनाओं का वाहक है। यह लोक सेवक पूरे देश में कार्य करता है। गांव हो या मेट्रो शहर, आपको वहां डाकिया जरूर मिल जाएगा।

डाकिया हमेशा एक ऐसी वर्दी पहनता है जो उसे भीड़ से अलग खड़ा करती है। भारत में वह खाकी कपड़े और रंग की वर्दी पहनते हैं। एक डाकिया का सबसे बेशकीमती सामान उसका बैग होता है जिसमें वह पत्र रखता है। इसमें अच्छी खबर से लेकर बुरी खबर तक सभी तरह की चीजें होती हैं। वे आम तौर पर साइकिल पर यात्रा करते हैं जबकि कुछ पैदल भी जाते हैं। एक डाकिए को चिट्ठियाँ पहुँचाने के लिए हमेशा जल्दी उठना पड़ता है।

उसका कर्तव्य है कि वह पत्रों और पदों की छँटाई करे ताकि विशिष्ट क्षेत्रों में उन्हें पहुँचाने में आसानी हो। वह उन्हें सत्यापित करने के लिए सभी पत्रों पर मुहर भी लगाता है। एक डाकिया लोगों को यह सुनिश्चित करने में मदद करता है कि उनकी महत्वपूर्ण जानकारी सही हाथों में है। इसके अलावा, वह बहुत भरोसेमंद व्यक्ति हैं जो लोगों को पत्र पहुंचाने के लिए दिन-रात काम करते हैं। हालाँकि, यह काम काफी चुनौतीपूर्ण है और इसकी पर्याप्त सराहना नहीं की जाती है।

एक डाकिया के सामने आने वाली कठिनाइयाँ

पोस्टमैन का जीवन बहुत कठिन होता है। उसे पूरे दिन लगातार काम करना पड़ता है और इलाकों में सटीक पते की तलाश करनी पड़ती है। यहां तक ​​कि वह रात में लोगों के लिए महत्वपूर्ण टेलीग्राम पहुंचाने का काम भी करता है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि बारिश हो रही है या चिलचिलाती गर्मी, डाकिया हमेशा ड्यूटी पर रहेगा।

इसके अलावा, एक डाकिया को गंतव्य तक पहुंचने के लिए चुनौतीपूर्ण इलाकों के साथ-साथ असमान सड़कों को भी कवर करना पड़ता है। ग्रामीण इलाकों में, डाकिया जंगलों जैसे खतरनाक इलाकों से गुजरता है और जहां सांप और सभी हैं। डाकिया ज्यादातर मेहनती होते हैं जो उन्हें मिलने वाला हर पैसा कमाते हैं। ये अपने काम के प्रति ईमानदार होते हैं और लोगों का जीवन आसान बनाते हैं।

इसके बावजूद डाकिया को पर्याप्त वेतन नहीं मिलता है। वह जो कार्य करता है वह उस दर्द और कठिनाइयों के साथ न्याय नहीं करता है जिससे उसे गुजरना पड़ता है। इसके अलावा, उसे सीमित अवकाश भी मिलता है और वह उन दिनों में काम करता है जब दुनिया आराम कर रही होती है।

इसके अलावा, इस पद पर पदोन्नति की बहुत कम या कोई संभावना नहीं है। मामूली वेतन के कारण एक डाकिया के लिए अपने परिवार की सभी जरूरतों को पूरा करना कठिन हो जाता है। ऐसे में हमें उनके प्रति सहानुभूति रखनी चाहिए। इसके अलावा, सरकार को उन्हें सही भुगतान करना चाहिए ताकि वे जीवन की बेहतर गुणवत्ता प्राप्त कर सकें।

पोस्टमैन पर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)

Q.1 एक डाकिया के महत्व को बताएं।.

A.1 एक डाकिया बहुत महत्वपूर्ण है। वह महत्वपूर्ण दस्तावेजों को जीवन स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंचाता है और हमारे जीवन को आसान बनाता है।

प्र.2 एक डाकिया को किन कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है?

A.2 एक डाकिया हमेशा हर तरह के मौसम में काम करता है, चाहे कितना भी कठोर मौसम क्यों न हो। उन्हें अल्प वेतन और सीमित अवकाश मिलते हैं।

HindiVyakran

  • नर्सरी निबंध
  • सूक्तिपरक निबंध
  • सामान्य निबंध
  • दीर्घ निबंध
  • संस्कृत निबंध
  • संस्कृत पत्र
  • संस्कृत व्याकरण
  • संस्कृत कविता
  • संस्कृत कहानियाँ
  • संस्कृत शब्दावली
  • पत्र लेखन
  • संवाद लेखन
  • जीवन परिचय
  • डायरी लेखन
  • वृत्तांत लेखन
  • सूचना लेखन
  • रिपोर्ट लेखन
  • विज्ञापन

Header$type=social_icons

  • commentsSystem

10 Lines on Post Office in Hindi and English

10 Lines on Post Office in Hindi and English In this article we are providing short essay or 10 Lines on Post office in Hindi and English language for class 1, 2, 3, 4, 5. इस लेख में पढ़ें हिंदी तथा अंग्रेजी में पोस्ट ऑफिस पर 10 वाक्य।

10 Lines on Post Office in Hindi

  • पोस्ट ऑफिस को हिंदी में डाकघर कहते हैं। 
  • भारत में डाकसेवा की शुरुआत 1 अप्रैल 1854 को हुई। 
  • वारेन हेस्टिंग्स ने कलकत्ता में प्रथम डाकघर स्थापित किया.
  • पोस्ट ऑफिस एक महत्वपूर्ण कार्यालय होता है। 
  • डाकघर प्रत्येक जिले, कस्बे व गाँव में होता है। 
  • डाकघर के द्वारा पत्रों का आदान-प्रदान किया जाता है। 
  • डाकघर के बाहर पत्र जमा करने की एक पेटी होती है। 
  • इस पत्र पेटी का रंग लाल होता है। 
  • डाकघर पत्रों को भेजने के लिए पिनकोड प्रयोग करते हैं। 
  • भारत में रेलवे तथा सेना के अपने अलग डाकघर होते हैं। 
  • यहां डाकिया, पोस्टमॉस्टर क्लर्क व चपरासी आदि काम करते हैं। 
  • प्रत्येक पोस्ट ऑफिस में एक टिकट काउंटर होता है। 
  • टिकट काउंटर पर टिकट व स्टाम्प खरीदी जाती हैं। 
  • डाकघर में पत्रों को जमा करने, छांटने व पहुंचाने का कार्य होता है।
  • डाकघर से पार्सल व मनीआर्डर आदि भी भेजे जाते हैं। 
  • कई लोग डाकघरों में अपने पैसे भी जमा करते हैं। 

10 Lines on Post Office in English

  • Postal services is the cheapest mode of communication.
  • Postal service started in India on 1 April 1854.
  • Post offices are found in every city, town, and village.
  • Post office carries our letters from one place to the other
  • Here the postman, postmaster clerk and peon are working.
  • There is a red box to collect letters outside the post office.
  • People put their letters into the letter box.
  • Each post office has a ticket counter and inquiry counter .
  • Tickets and stamps are purchased at the ticket counter.
  • Postcode is used to send letters to the post office.
  • Railways and the army have their own post offices in India.
  • The post office has the task of collecting, sorting and delivering letters.
  • Parcel and money orders are also sent from the post office.
  • Many people deposit their money also  in post offices.
  • Post offices offer services such as acceptance of letters and parcels.
  • The postal network in India is the largest in world

Twitter

100+ Social Counters$type=social_counter

  • fixedSidebar
  • showMoreText

/gi-clock-o/ WEEK TRENDING$type=list

  • गम् धातु के रूप संस्कृत में – Gam Dhatu Roop In Sanskrit गम् धातु के रूप संस्कृत में – Gam Dhatu Roop In Sanskrit यहां पढ़ें गम् धातु रूप के पांचो लकार संस्कृत भाषा में। गम् धातु का अर्थ होता है जा...
  • दो मित्रों के बीच परीक्षा को लेकर संवाद - Do Mitro ke Beech Pariksha Ko Lekar Samvad Lekhan दो मित्रों के बीच परीक्षा को लेकर संवाद लेखन : In This article, We are providing दो मित्रों के बीच परीक्षा को लेकर संवाद , परीक्षा की तैयार...

' border=

RECENT WITH THUMBS$type=blogging$m=0$cate=0$sn=0$rm=0$c=4$va=0

  • 10 line essay
  • 10 Lines in Gujarati
  • Aapka Bunty
  • Aarti Sangrah
  • Akbar Birbal
  • anuched lekhan
  • asprishyata
  • Bahu ki Vida
  • Bengali Essays
  • Bengali Letters
  • bengali stories
  • best hindi poem
  • Bhagat ki Gat
  • Bhagwati Charan Varma
  • Bhishma Shahni
  • Bhor ka Tara
  • Boodhi Kaki
  • Chandradhar Sharma Guleri
  • charitra chitran
  • Chief ki Daawat
  • Chini Feriwala
  • chitralekha
  • Chota jadugar
  • Claim Kahani
  • Dairy Lekhan
  • Daroga Amichand
  • deshbhkati poem
  • Dharmaveer Bharti
  • Dharmveer Bharti
  • Diary Lekhan
  • Do Bailon ki Katha
  • Dushyant Kumar
  • Eidgah Kahani
  • Essay on Animals
  • festival poems
  • French Essays
  • funny hindi poem
  • funny hindi story
  • German essays
  • Gujarati Nibandh
  • gujarati patra
  • Guliki Banno
  • Gulli Danda Kahani
  • Haar ki Jeet
  • Harishankar Parsai
  • hindi grammar
  • hindi motivational story
  • hindi poem for kids
  • hindi poems
  • hindi rhyms
  • hindi short poems
  • hindi stories with moral
  • Information
  • Jagdish Chandra Mathur
  • Jahirat Lekhan
  • jainendra Kumar
  • jatak story
  • Jayshankar Prasad
  • Jeep par Sawar Illian
  • jivan parichay
  • Kashinath Singh
  • kavita in hindi
  • Kedarnath Agrawal
  • Khoyi Hui Dishayen
  • Kya Pooja Kya Archan Re Kavita
  • Madhur madhur mere deepak jal
  • Mahadevi Varma
  • Mahanagar Ki Maithili
  • Main Haar Gayi
  • Maithilisharan Gupt
  • Majboori Kahani
  • malayalam essay
  • malayalam letter
  • malayalam speech
  • malayalam words
  • Mannu Bhandari
  • Marathi Kathapurti Lekhan
  • Marathi Nibandh
  • Marathi Patra
  • Marathi Samvad
  • marathi vritant lekhan
  • Mohan Rakesh
  • Mohandas Naimishrai
  • MOTHERS DAY POEM
  • Narendra Sharma
  • Nasha Kahani
  • Neeli Jheel
  • nursery rhymes
  • odia letters
  • Panch Parmeshwar
  • panchtantra
  • Parinde Kahani
  • Paryayvachi Shabd
  • Poos ki Raat
  • Portuguese Essays
  • Punjabi Essays
  • Punjabi Letters
  • Punjabi Poems
  • Raja Nirbansiya
  • Rajendra yadav
  • Rakh Kahani
  • Ramesh Bakshi
  • Ramvriksh Benipuri
  • Rani Ma ka Chabutra
  • Russian Essays
  • Sadgati Kahani
  • samvad lekhan
  • Samvad yojna
  • Samvidhanvad
  • Sandesh Lekhan
  • sanskrit biography
  • Sanskrit Dialogue Writing
  • sanskrit essay
  • sanskrit grammar
  • sanskrit patra
  • Sanskrit Poem
  • sanskrit story
  • Sanskrit words
  • Sara Akash Upanyas
  • Savitri Number 2
  • Shankar Puntambekar
  • Sharad Joshi
  • Shatranj Ke Khiladi
  • short essay
  • spanish essays
  • Striling-Pulling
  • Subhadra Kumari Chauhan
  • Subhan Khan
  • Suchana Lekhan
  • Sudha Arora
  • Sukh Kahani
  • suktiparak nibandh
  • Suryakant Tripathi Nirala
  • Swarg aur Prithvi
  • Tasveer Kahani
  • Telugu Stories
  • UPSC Essays
  • Usne Kaha Tha
  • Vinod Rastogi
  • Vrutant lekhan
  • Wahi ki Wahi Baat
  • Yahi Sach Hai kahani
  • Yoddha Kahani
  • Zaheer Qureshi
  • कहानी लेखन
  • कहानी सारांश
  • तेनालीराम
  • मेरी माँ
  • लोककथा
  • शिकायती पत्र
  • हजारी प्रसाद द्विवेदी जी
  • हिंदी कहानी

RECENT$type=list-tab$date=0$au=0$c=5

Replies$type=list-tab$com=0$c=4$src=recent-comments, random$type=list-tab$date=0$au=0$c=5$src=random-posts, /gi-fire/ year popular$type=one.

  • अध्यापक और छात्र के बीच संवाद लेखन - Adhyapak aur Chatra ke Bich Samvad Lekhan अध्यापक और छात्र के बीच संवाद लेखन : In This article, We are providing अध्यापक और विद्यार्थी के बीच संवाद लेखन and Adhyapak aur Chatra ke ...

' border=

Join with us

Footer Logo

Footer Social$type=social_icons

  • loadMorePosts

essay on postal service in hindi

45,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today

Here’s your new year gift, one app for all your, study abroad needs, start your journey, track your progress, grow with the community and so much more.

essay on postal service in hindi

Verification Code

An OTP has been sent to your registered mobile no. Please verify

essay on postal service in hindi

Thanks for your comment !

Our team will review it before it's shown to our readers.

essay on postal service in hindi

  • Indian Exams /

Indian Postal Service in Hindi: जानिए कैसे करें इस परीक्षा की तैयारी?

' src=

  • Updated on  
  • नवम्बर 23, 2023

Indian Postal Service in Hindi

क्या आप इंडियन पोस्टल सर्विस के बारे में जानते हैं और क्या आपको पता है कि इंडिया पोस्ट कितनी सर्विसेज प्रोवाइड की जाती है। इंडिया पोस्ट न सिर्फ भारत और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पत्रों, पोस्टकार्ड और पार्सल की डिलीवरी का काम संभालता है बल्कि इंडिया पोस्ट विभिन्न फाइनेंशियल सर्विसेज प्रदान करता है, जैसे सेविंग्स अकाउंट, मनी ऑर्डर, पोस्टल लाइफ इंश्योरेंस, और रिटेल सर्विसेज जैसे टिकट, स्टेशनरी और डाक टिकट उत्पाद बेचना भी शामिल है। इस ब्लॉग में Indian Postal Service in Hindi के बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी गई है यदि आप भी इस बारे में जानना चाहते हैं तो इस ब्लॉग को अंत तक पढ़ें। 

This Blog Includes:

इंडियन पोस्टल सर्विस क्या है, किस संस्थान द्वारा इंडियन पोस्टल सर्विस का एग्जाम कंडक्ट किया जाता है, इंडियन पोस्टल सर्विस के फंक्शन्स, इंडियन पोस्टल सर्विस से जुड़ी अपडेट्स, इंडियन पोस्टल सर्विस एग्जाम डेट , इंडियन पोस्ट ऑफिस एग्जाम पैटर्न 2023 पेपर 1:, इंडियन पोस्ट ऑफिस एग्जाम पैटर्न 2023 पेपर 2:, इंडियन पोस्ट ऑफिस एग्जाम पैटर्न 2023 पेपर 3:, इंडियन पोस्ट ऑफिस एग्जाम पैटर्न 2023 पेपर 4:, पोस्टल ऑफिस गाइड पार्ट 1, जनरल अवेयरनेस/ नॉलेज, बेसिक आरिथेमेटिक, पोस्ट ऑफिस गाइड पार्ट 1, पोस्टल मैनुअल वॉल्यूम 4 पार्ट 3, पोस्टल मैनुअल वॉल्यूम 7, इंडियन पोस्टल सर्विस के लिए योग्यता, इंडियन पोस्टल सर्विस एग्जाम के बाद प्रोबेशन ट्रेनिंग की स्टेजेस, इंडियन पोस्टल सर्विस के लिए करियर स्कोप, इंडियन पोस्टल सर्विस का सैलरी स्ट्रक्चर.

इंडियन पोस्टल सर्विस जिसे इंडिया पोस्ट के नाम से भी जाना जाता है, इंडिया का ऑफिशियल पोस्टल सिस्टम है। यह एक सरकार द्वारा संचालित डाक नेटवर्क है जो देश भर में विभिन्न पोस्टल सर्विसेज प्रदान करता है। इंडिया पोस्ट दुनिया के सबसे पुराने और सबसे बड़े पोस्टल नेटवर्कों में से एक है, जिसका पूरे देश में व्यापक बुनियादी ढांचा है। इंडियन पोस्टल सर्विस, पार्सल और अन्य मेल वस्तुओं की डिलीवरी सहित सेवाओं की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदान करती है।  यह मनी ऑर्डर, डाक बचत खाते, रिटेल सर्विसेज और इंश्योरेंस जैसी सर्विसेज भी प्रदान करता है। इंडिया पोस्ट पूरे देश में शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों में बड़ी संख्या में डाकघर और लेटरबॉक्स संचालित करता है।

Indian Postal Service in Hindi का एग्जाम, जिसे ऑफिशियल तौर पर इंडियन पोस्टल डिपार्टमेंट एग्जामिनेशन के रूप में जाना जाता है, डिपार्टमेंट ऑफ पोस्ट, मिनिस्ट्री ऑफ कम्युनिकेशन, भारत सरकार द्वारा आयोजित किया जाता है। डाक विभाग भारत में पोस्टल सर्विसेज के मैनेजमेंट और ऑपरेशन के लिए जिम्मेदार है, जिसमें भर्ती उद्देश्यों के लिए परीक्षा आयोजित करना भी शामिल है। इंडियन पोस्टल सर्विस के भीतर विभिन्न पदों, जैसे पोस्टल एसिस्टेंट, सोर्टिग एसिस्टेंट, पोस्टमैन और मल्टी-टास्किंग स्टाफ (MTS) को भरने के लिए नियमित अंतराल पर एग्जाम्स आयोजित किया जाता हैं।

इंडियन पोस्टल सर्विस जिसे इंडिया पोस्ट के नाम से भी जाना जाता है, कई प्रकार के कार्य करती है। भारतीय डाक सेवा के कुछ प्रमुख फंक्शंस में शामिल हैं:

  • मेल और पार्सल सर्विसेज: इंडियन पोस्टल सर्विस देश भर में मेल और पार्सल के कलेक्शन, सोर्टिंग, प्रोसेसिंग और डिस्ट्रीब्यूशन के लिए जिम्मेदार है। यह घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय दोनों मेल सर्विसेज को संभालता है।
  • फाइनेंशियल सर्विसेज: इंडिया पोस्ट जनता को विभिन्न फाइनेंशियल सर्विसेज प्रदान करता है, जिसमें सेविंग्स अकाउंट, मनी ऑर्डर, पोस्टल लाइफ इंश्योरेंस और सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ) और राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी) जैसी विभिन्न इन्वेस्टमेंट स्कीम्स शामिल हैं।
  • रिटेल सर्विसेज: इंडिया पोस्ट, पोस्ट ऑफिस ऑपरेट करता है जो कई प्रकार की रिटेल सर्विसेज प्रदान करता है, जैसे डाक टिकट, स्टेशनरी, पोस्टल प्रोडक्ट और डाक टिकट वस्तुओं की बिक्री।  कुछ डाकघर ई-कॉमर्स और लॉजिस्टिक्स सर्विसेज भी प्रदान करते हैं।
  • स्पीड पोस्ट और एक्सप्रेस सर्विसेज: इंडिया पोस्ट भारत और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर टाइम-सेंसेटिव डॉक्यूमेंट्स और पैकेजों की फास्ट और रिलायबल डिलीवरी के लिए स्पीड पोस्ट और एक्सप्रेस पार्सल सर्विसेज प्रदान करता है।
  • पोस्टल बैंकिंग: इंडियन पोस्टल सर्विस विभिन्न सार्वजनिक और निजी बैंकों के लिए एक बैंकिंग कॉरेस्पोंडेंस के रूप में कार्य करती है, जो ग्रामीण और दूरदराज के क्षेत्रों को नकद जमा, निकासी और खाता शेष पूछताछ सहित बुनियादी बैंकिंग सर्विसेज तक पहुंचने में सक्षम बनाती है।
  • पोस्टल सेविंग्स स्कीम: इंडिया पोस्ट फाइनेंशियल इंक्लूजन को बढ़ावा देने और जनता के बीच सेविंग्स को प्रोत्साहित करने के लिए विभिन्न सेविंग स्कीम्स प्रदान करता है।  इन स्कीम्स में सुकन्या समृद्धि योजना (एसएसवाई), किसान विकास पत्र (केवीपी), और मासिक आय योजनाएं (एमआईएस) शामिल हैं।
  • डाक टिकट संग्रह और स्टांप कलेक्शन: भारतीय डाक स्मारक टिकट, विशेष कवर और डाक टिकट संग्रहणीय वस्तुएं जारी करके डाक टिकट संग्रह के शौक को बढ़ावा देता है।  यह डाक टिकट संग्रहों को प्रदर्शित करने के लिए प्रदर्शनियों, नीलामी और डाक टिकट संग्रह कार्यक्रमों का भी आयोजन करता है।
  • पोस्टल लाइफ इंश्योरेंस: इंडियन पोस्टल सर्विस अपने कर्मचारियों और आम जनता को डाक जीवन बीमा (पीएलआई) और ग्रामीण डाक जीवन बीमा (आरपीएलआई) योजनाओं के माध्यम से जीवन बीमा कवरेज प्रदान करती है।

इंडिया पोस्ट ऑफिस ने ब्रांच पोस्ट ऑफिसेज में ग्रामीण डाक सेवकों जैसे की ब्रांच पोस्ट मास्टर और असिस्टेंट ब्रांच पोस्टमास्टर के पद के लिए इंडिया पोस्ट ऑफिस भर्ती 2023 नोटिफिकेशन जारी की है। पोस्ट ऑफिस वेकेंसीज की सटीक संख्या 12828 है। योग्य उम्मीदवार जो 10वीं कक्षा उत्तीर्ण कर चुके हैं और आयु सीमा के भीतर हैं, वे ऑफिशियल वेबसाइट पर अपना आवेदन जमा कर सकते हैं। इंडिया पोस्ट जीडीएस भर्ती 2023 में इंडिया पोस्ट जीडीएस ने भारत भर के 23 पोस्ट ऑफिस सर्कल्स में ब्रांच पोस्टमास्टर और असिस्टेंट ब्रांच पोस्टमास्टर के पद के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए हैं।  10वीं और 12वीं पास नौकरी चाहने वालों के लिए आकर्षक वेतन के साथ एक स्थिर नौकरी पाने का यह एक सुनहरा मौका है। 

इंडिया पोस्ट की तरफ से ग्राम डाक सेवक (जीडीएस) इंडिया पोस्ट की परीक्षा डेट्स के लिए जल्द ही नोटिफिकेशन जारी कर दी जाएगी। इच्छुक उम्मीदवारों को अपने सभी इंपोर्टेंट डॉक्यूमेंट्स के साथ तैयार रहना चाहिए क्योंकि रजिस्ट्रेशन की अस्थायी डेट्स अथॉरिटी द्वारा पहले ही जारी कर दी गई थी। उम्मीदवारों को यह भी सलाह दी जाती है कि वे अपडेट रहने के लिए इंडिया पोस्ट की ऑफिशियल वेबसाइट को नियमित रूप से देखते रहें।

इंडियन पोस्टल सर्विस एग्जाम पैटर्न

Indian Postal Service in Hindi का एग्जाम पैटर्न पेपर वाइज़ नीचे दिया गया है:

इंडिया पोस्ट ऑफिस एग्जाम का पेपर 1 एमटीएस, मेलगार्ड और पोस्टमैन के लिए समान है।  पेपर 1 के दो पार्ट हैं, भाग ए में पोस्ट ऑफिस गाइड और पोस्ट मैनुअल वॉल्यूम V है और भाग 2 में अन्य सेक्शन हैं।  पेपर 1 के लिए इंडिया पोस्ट ऑफिस एग्जाम पैटर्न 2023 का विवरण यहां दिया गया है।

  • इसमें 60 मिनट की समग्र समयावधि है
  • अधिकतम अंक 100
  • प्रश्नों की कुल संख्या 50
बेसिक पोस्टल नॉलेज एंड जनरल अवेयरनेस पोस्ट ऑफिस गाइड पार्ट 12346
जनरल अवेयरनेस नॉलेज1020
पोस्ट मैनुअल वॉल्यूम 5714
बेसिक आरिथेमेटिक1020
ओवरऑल50100

एग्जाम का पेपर 2 केवल पोस्टमैन और मेलगार्ड के लिए आयोजित किया जाता है।  इन दोनों सेक्शन के स्कोर के आधार पर मेरिट तय की जाएगी।  पेपर 2 के परीक्षा पैटर्न की जानकारी नीचे दी गई है।

  •  मल्टीपल चॉइस क्वेश्चंस होंगे
  • परीक्षा की अवधि 30 मिनट है
  • क्वेश्चंस की कुल संख्या 25 है
  • परीक्षा के लिए अधिकतम अंक 50 है
पोस्टल ऑपरेशन की नॉलेजपोस्ट ऑफिस गाइड पार्ट 1510

पोस्ट मैनुअल वॉल्यूम 6 पार्ट 3

10

20
पोस्ट मैनुअल वॉल्यूम 71020
ओवरऑल2550

यह एक क्वालीफाइंग एग्जाम है, यह एग्जाम एमटीएस, पोस्टमैन और मेलगुराड तीनों पदों के लिए मान्य है।  इस एग्जाम का उद्देश्य लोकल लैंग्वेजेज़ में कैंडिडेट्स की दक्षता हासिल करना है।  यहां पेपर 3 के लिए इंडिया पोस्ट ऑफिस एग्जाम पैटर्न 2023 का विवरण दिया गया है:

लोकल लैंग्वेजेज़ का ज्ञान शब्दों का इंग्लिश से लोकल लेंग्वेज में ट्रांसलेशन1515
शब्दों का लोकल लेंग्वेज से इंग्लिश में ट्रांसलेशन1515
लोकल लेंग्वेज में लेटर राइटिंग110
पैराग्राफ/ शॉर्ट ऐसे लोकल लैंग्वेज में110
ओवरऑल3250

स्किल टेस्ट केवल पोस्टमैन और मेल गार्ड की पोस्ट के लिए आयोजित की जाएगी।  कंप्यूटर सिस्टम पर डेटा एंट्री का स्किल्स टेस्ट 15 मिनट का होगा।

डेटा एंट्री स्किल टेस्ट 2515 मिनट्स 

इंडियन पोस्टल सर्विस एग्जाम सिलेबस

इंडियन पोस्टल सर्विस एग्जाम सिलेबस सेक्शन वाइज़ नीचे दिया गया है:

  • जनरल रूल्स एस टू पैकिंग, सीलिंग, एंड पोस्टिंग, मैनर ऑफ एफिक्सिंग स्टैंप्स
  • मेथड्स ऑफ़ एड्रेस
  • ऑर्गनाइजेशन ऑफ़ द डिपार्टमेंट
  • टाइप ऑफ़ पोस्ट ऑफिसेज
  • बिज़नेस हॉर्स
  • पेमेंट ऑफ़ पोस्टेज , स्टांप एंड स्टेशनरी
  • पोस्ट बॉक्सेस एंड पोस्ट बैग्स
  • ड्यूटीज ऑफ़ लेटर बॉक्स पियोन
  • ऑफिशियल पोस्टल आर्टिकल
  • प्रोहिबिटेड पोस्टल आर्टिकल्स
  • प्रोडक्ट्स एंड सर्विसेज: मेल, बैंकिंग एंड रेमिटेंसेज
  • इंश्योरेंस, स्टैंपस एंड बिज़नेस 
  • इंडियन जियोग्राफी
  • इंडियन कल्चर एंड फ्रीडम स्ट्रगल
  • एथिक्स एंड मोरल स्टडी
  • सिंपल इंट्रेस्ट
  • एवरेज 
  • टाइम एंड वर्क
  • टाइम एंड डिस्टेंस
  • यूनिटरी मैथड
  • प्रॉफिट एंड लॉस

इंडिया पोस्ट सिलेबस 2023 पेपर 2: नॉलेज ऑफ़ पोस्टल ऑपरेशन

पेपर 1 और 2 मेरिट बनाने वाले पेपर हैं इसलिए उम्मीदवारों को इन 2 पेपरों को बहुत गहराई से तैयार करना चाहिए। इनका सिलेबस नीचे दिया गया है;

  • इंस्ट्रक्शन रिगार्डिंग एड्रेस चेंज
  • डिलीवरी ऑफ़ मेल्स
  • रिफ्यूजल ऑफ आर्टिकल
  • पेमेंट ऑफ़ इ मनी ऑर्डर
  • रीडाईरेक्शन
  • आर्टिकल्स एड्रेस्ड टू द डिसीज्ड पर्सन
  • लायबिलिटी टू डिटेंशन टू सर्टेन मेल
  • फैसिलिटीज प्रोवाइडेड बाय पोस्टमैन इन रूरल एरियाज 
  • एड्रेस टू बी नॉटेड ऑन पोस्टल आर्टिकल्स
  • डैमेज्ड आर्टिकल्स टू बी नॉटिस्ड
  • रिसिप्ट ऑफ इश्यूड फॉर डिलीवरी
  • बुक ऑफ रिसिप्ट फॉर इंटीमेशंस एंड नोटिसेज डिलीवरी
  • इंस्ट्रक्शन फॉर डिलीवरी
  • हेड पोस्टमैन 
  • नॉलेज ऑफ़ पोस्टल बिज़नेस
  • सप्लाई ऑफ फॉर्म्स टू बी कैरीड आउट
  • सेल ऑफ़ स्टेंप्स
  • पोस्टमैंस बुक
  • रिसिप्ट ऑफ एड्रेसेज फॉर रजिस्टर्ड
  • डिलीवरी टू इलिटरेट एड्रेसेज
  • डिलीवरी ऑफ़ इंस्योर्ड आर्टिकल्स एड्रेसेज टू माइनर्स
  • पेमेंट ऑफ़ इ मनी ऑर्डर्स 
  • इ मनी ऑर्डर्स एड्रेस्ड टू माइनर्स
  • पेमेंट ऑफ़ इ मनी ऑर्डर्स एंड डिलीवरी ऑफ रजिस्टर्ड लेटर्स टू लुनेटिक्स
  • ड्यूटीज ऑफ़ द विलेज पोस्टमैन
  • रियलाइजेशन ऑफ़ पोस्टेज बिफोर डिलीवरी
  • डिस्पोजल ऑफ़ मेल एड्रेस्ड टू ए सेक्शन और मेल ऑफिस
  • क्लोजिंग ऑफ़ ट्रांसिट बैग्स
  • स्टैंप एंड सील
  • पोर्टफोलियो एंड इट्स कॉन्टेंट
  • प्रिपरेशन ऑफ़ डेली रिपोर्ट
  • मेल एब्सट्रैक्ट
  • एक्सचेंज ऑफ़ मेल
  • ड्यूटीज एंड रिस्पॉन्सबिलिटीज़ ऑफ मेल गार्ड/ एजेंट
  • फाइनल ड्यूटीज बिफोर क्विटिंग वैन/ ऑफिस
  • ऑर्डर ए एंड बी 

Indian Postal Service in Hindi के लिए योग्यता नीचे दी गई है-

  • उम्मीदवारों को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कम से कम 10वीं कक्षा उत्तीर्ण करनी चाहिए।
  • भारतीय पोस्ट जीडीएस के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को कंप्यूटर का बुनियादी ज्ञान होना चाहिए।
  •  स्थानीय भाषा का अनिवार्य ज्ञान- उम्मीदवार को कम से कम 10वीं कक्षा तक एक स्थानीय भाषा का अध्ययन करना चाहिए।
  • बेसिक कंप्यूटर ट्रेनिंग सर्टिफिकेट के लिए कम से कम 60 दिनों की अवधि का कोर्स आवश्यक है।
  • उम्मीदवारों की न्यूनतम आयु सीमा 18 वर्ष होनी चाहिए।
  • जीडीएस की अधिकतम आयु सीमा 40 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।

Indian Postal Service in Hindi एग्जाम के बाद प्रोबेशन ट्रेनिंग की स्टेजेस निम्न है:

  • सीधी भर्ती के प्रोबेशनरी ऑफिशियल्स के लिए दो साल के प्रोबेशन पीरियड को सफलतापूर्वक पूरा करना अनिवार्य होगा।  प्रोबेशन अवधि के दौरान अधिकारियों को पीटीसी/आरटीसी में अनिवार्य प्रशिक्षण से गुजरना होगा और न्यूनतम योग्यता अंकों के साथ सभी परीक्षाएं उत्तीर्ण करनी होंगी।
  • यदि कोई प्रोबेशनरी सीधी भर्ती ऑफिशियल अपने पहले प्रयास में पीटीसी/आरटीसी में आयोजित परीक्षणों को पास करने में असमर्थ है, तो उसे परीक्षण पास करने के लिए दो अतिरिक्त मौके दिए जा सकते हैं।  ये तीन मौके (प्रशिक्षण के दौरान पहला मौका सहित) दो साल की अनिवार्य प्रोबेशन अवधि के भीतर प्रदान किए जा सकते हैं।  ऐसे अधिकारियों को इस अवधि के दौरान किसी भी संवेदनशील पद पर तैनात नहीं किया जाना चाहिए।
  • किसी अधिकारी को तीसरा मौका देने से पहले, जो पहले दो प्रयासों में विफल रहा है, उसे इस आशय की एक लिखित चेतावनी दी जानी चाहिए कि अनिवार्य परीक्षणों में उसकी विफलता उसकी पुष्टि को उचित नहीं ठहराती है।  सेवा और वह, जब तक कि वह एक निर्दिष्ट अवधि के भीतर पर्याप्त सुधार नहीं दिखाता और परीक्षण पास नहीं कर लेता, उसे सेवा से बर्खास्त करने के मुद्दे पर विचार किया जाएगा।
  • यदि कोई अधिकारी दो साल की प्रोबेशन अवधि के भीतर तीन प्रयासों में परीक्षण पास करने में असमर्थ है, तो उसके मामले में प्रोबेशन अवधि छह महीने तक बढ़ा दी जाएगी, जिसके दौरान उसे अनिवार्य रूप से परीक्षण पास करना होगा।  ऐसे अधिकारियों के लिए, जिनकी प्रोबेशन अवधि परीक्षणों में उत्तीर्ण न होने के कारण छह महीने के लिए बढ़ा दी गई है, एक योग्यता परीक्षा भी शुरू की जाएगी जो मौजूदा परीक्षाओं के अतिरिक्त होगी।  ऐसे योग्यता परीक्षण के तौर-तरीकों को डाक निदेशालय के प्रशिक्षण प्रभाग द्वारा अंतिम रूप दिया जाएगा।
  • यदि अधिकारी आवश्यक परीक्षण पास कर लेता है और विस्तार सहित प्रोबेशन की पूरी अवधि के दौरान संतोषजनक ढंग से कार्य/प्रदर्शन करता है, तो उसे प्रोबेशन अवधि सफलतापूर्वक पूरी करने वाला घोषित किया जाएगा और विभागीय पुष्टिकरण समिति द्वारा सेवा में पुष्टि की जाएगी।
  • यदि कोई अधिकारी परीक्षण में विफल रहता है और/या योग्यता परीक्षा उत्तीर्ण नहीं करता है, तो ऐसे अस्थायी सीधी भर्ती अधिकारी की सेवाएं समाप्त कर दी जाएंगी।

Indian Postal Service in Hindi के लिए करियर स्कोप निम्न प्रकार से है:

  • डाक सहायक/छँटाई सहायक: इन पदों में लिपिकीय और प्रशासनिक कार्य शामिल हैं जैसे मेल छाँटना, रिकॉर्ड बनाए रखना, ग्राहक पूछताछ को संभालना और विभिन्न डाक कार्यों में सहायता करना।
  • डाकिया/मेल गार्ड: डाकिए पत्र, पार्सल और अन्य डाक वस्तुओं को निर्दिष्ट पते पर पहुंचाने के लिए जिम्मेदार हैं।  मेल गार्ड रेलवे मेल सेवाओं में काम करते हैं और परिवहन के दौरान मेल की सुरक्षा सुनिश्चित करते हैं।
  • मल्टी-टास्किंग स्टाफ (एमटीएस): एमटीएस कर्मचारी विभिन्न प्रकार के कार्य करते हैं, जिनमें कार्यालय रखरखाव, रिकॉर्ड-कीपिंग, डिलीवरी और डाकघरों के भीतर अन्य सहायक भूमिकाएँ शामिल हैं।
  • डाक निरीक्षक: डाक निरीक्षक डाक सेवा से संबंधित आपराधिक गतिविधियों की जांच के लिए जिम्मेदार हैं, जिसमें मेल धोखाधड़ी, चोरी और डाक प्रणाली का अवैध उपयोग शामिल है।
  • डाक सहायक खाते/डाक बचत बैंक: इन भूमिकाओं में वित्तीय लेनदेन का प्रबंधन, खाते बनाए रखना और डाक प्रणाली के भीतर बैंकिंग सेवाएं प्रदान करना शामिल है।
  • डाक अधीक्षक/मंडल अधीक्षक: ये पद उच्च-स्तरीय पर्यवेक्षी भूमिकाएँ हैं, डाक संचालन की देखरेख करना, कर्मचारियों का प्रबंधन करना और कुशल सेवा वितरण सुनिश्चित करना।
  • डाक सेवा समूह ‘ए’ अधिकारी: यह एक उच्च स्तरीय प्रशासनिक पद है जिसमें नीति निर्माण, रणनीतिक योजना और डाक संचालन के समग्र समन्वय का प्रबंधन शामिल है।
  • डाक सर्कल मैनेजमेंट: इन पदों में नीतियों के कार्यान्वयन, वित्तीय प्रबंधन और कर्मचारी प्रशासन सहित एक विशिष्ट डाक सर्कल के संचालन का प्रबंधन और देखरेख शामिल है।

इंडियन पोस्टल सर्विस का Group A: Gazetted Salary, Group B: Gazetted Salary, Group B: Non-Gazetted Staff Salary, Group C: Non-Gazetted Staff Salary सैलरी स्ट्रक्चर नीचे पीडीएफ में दिया गया है:

सैलरी स्ट्रक्चर जानने के लिए पीडीएफ यहां से डाउनलोड करें।

पोस्ट ऑफिस भर्ती 2023 के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि 11 जून 2023 है। इंडिया पोस्ट जीडीएस भर्ती 2023 के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि है। 

भारत में एक डाकिये का औसत वेतन 1.8 लाख प्रति वर्ष (₹15.0k प्रति माह) है। वेतन अनुमान विभिन्न उद्योगों में विभिन्न पोस्टमैनों से प्राप्त 108 नवीनतम वेतन पर आधारित हैं।

इंडिया पोस्ट ऑफिस भर्ती 2023 नोटिफिकेशन में मेंशन डिटेल्स के अनुसार, आवेदकों की न्यूनतम आयु सीमा 18 वर्ष और अधिकतम आयु 32 वर्ष है। रिक्तियों के लिए आवेदन करने वाले आवेदकों को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कक्षा 10 की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी।

उम्मीद है कि आपको Indian Postal Service in Hindi के संदर्भ में हमारा यह ब्लॉग पसंद आया होगा। अन्य हिंदी ब्लॉग्स पढ़ने के लिए Leverage Edu के साथ बने रहिए।

' src=

Team Leverage Edu

प्रातिक्रिया दे जवाब रद्द करें

अगली बार जब मैं टिप्पणी करूँ, तो इस ब्राउज़र में मेरा नाम, ईमेल और वेबसाइट सहेजें।

Contact no. *

browse success stories

Leaving already?

8 Universities with higher ROI than IITs and IIMs

Grab this one-time opportunity to download this ebook

Connect With Us

45,000+ students realised their study abroad dream with us. take the first step today..

essay on postal service in hindi

Resend OTP in

essay on postal service in hindi

Need help with?

Study abroad.

UK, Canada, US & More

IELTS, GRE, GMAT & More

Scholarship, Loans & Forex

Country Preference

New Zealand

Which English test are you planning to take?

Which academic test are you planning to take.

Not Sure yet

When are you planning to take the exam?

Already booked my exam slot

Within 2 Months

Want to learn about the test

Which Degree do you wish to pursue?

When do you want to start studying abroad.

September 2024

January 2025

What is your budget to study abroad?

essay on postal service in hindi

How would you describe this article ?

Please rate this article

We would like to hear more.

essay on postal service in hindi

10 Lines on Post office in Hindi Language

In this article, we are providing 10 Lines on Post office in Hindi. In this, you will get information about Post office in Hindi for students and kids for classes 2nd 3rd, 4th, 5th, 6th, 7th, 8th, 9th, 10th 11th, 12th. हिंदी में डाकघर पर 10 लाइनें, Short 10 lines essay on Post office.

essay on postal service in hindi

1. डाकघर एक महत्वपूर्ण कार्यालय होता है जो पत्रों को आदान-प्रदान करने का काम करता है ।

2. डाकघर के अंदर डाकिया,क्लर्क, व चपरासी आदि काम करते हैं ।

3. भारत में डाकसेवा की शुरुआत 1 अप्रैल 1854 को हुई थी ।

4. भारत में 1854 से लेकर करीब आज तक 1,55,015 जितने डाकघर बनाए गए है ।

5. अंतर्राष्ट्रीय डाक दिवस 9 अक्टूबर को मनाया जाता है, जिसकी शुरुआत सन् 1874 से हुई थी ।

6. डाकघर के बाहर पत्र जमा करने के लिए एक लाल रंग की पेटी होती है ।

7. डाकघर केंद्र सरकार द्वारा संचालित एक संस्थान है ।

8. श्रीनगर के अंदर एक ऐसा डाकघर है,जो झील के बीचो बीच बनाया गया है । जिसे डूबता हुआ डाकघर भी कहा जाता है ।

9. हिमाचल प्रदेश के हिक्किम जिले में स्थित डाकघर दुनिया का सबसे ऊंचा डाकघर है, जिसकी ऊंचाई 4440 मीटर है।

10. वैश्विक डाक संघ की स्थापना 1874 में कि गई थी, जिसका हेतु दुनिया में ज्यादा से ज्यादा डाकघर बनाने का था ।

Essay on Postman in Hindi

ध्यान दें – प्रिय दर्शकों Lines on Post Office in Hindi (article) आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे ।

Leave a Comment Cancel Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

डाकघर पर 10 वाक्य | 10 Lines on Post Office in Hindi

10 Lines on Post Office in Hindi: आज हम आपको डाकघर पर 10 वाक्य निबंध हिंदी में उपलब्ध करा रहे है जिसके तहत आपको post office par 10 line essay और कंही खोजने की जरुरत न पड़े।

Post Office भारत सरकार द्वारा उपलब्ध कराई जाने वाली सार्वजनिक सुविधा है जिसमे पत्र और पार्सल का आदान प्रदान किया जाता है। डाकघर में डाक टिकट, पैकेजिंग, मेल और स्टेशनरी सम्बंधित सुविधाएँ भी उपलब्ध होती है। हर डाकघर के बहार कुछ बॉक्स लगाए जाते है जिसमे लोग अपने जान पहचान सम्बंधित लोगो के लिए पत्र डालते है जिसके तहत वह अपना सन्देश भी पहुंचा पाते है।

10 Lines on Post Office in Hindi

  • डाकघर को अंग्रेजी में Post Office कहते हैं।
  • डाकघर में महत्वपूर्ण काम पत्रों का आदान प्रदान किया जाता है।
  • डाकघर के बाहर एक लाल रंग की पेटी होती जिसमें पत्र जमा किए जाते हैं।
  • अंतर्राष्ट्रीय डाकघर दिवस 9 अक्टूबर को मनाया जाता है।
  • डाकघर हर गांव कस्बे इत्यादि शहर में उपस्थित होता है।
  • डाकघर से हम चिट्टियां तथा पैसे ट्रांसफर भी कर सकते हैं।
  • सरकारी दस्तावेज डाकघर द्वारा ही लोगों के घर पर पहुंचाया जाता है।
  • डाकघर की शुरुआत सबसे पहले 1 अक्टूबर 1854 में की गई।
  • भारत में 1.5 लाख डाकघर मौजूद है।
  • डाकघर में खाता खुलवाने से बैंक से ज्यादा ब्याज मिलता है।

10 lines on post office in hindi

डाकघर पर 10 वाक्य

  • डाकघर के अंदर चपरासी डाकिए आदि क्लर्क काम करते हैं।
  • श्रीनगर में एक ऐसा डाकघर है जो झील के बीचो बीच बनाया गया जिसे डूबता हुआ है डाकघर भी कहा जाता है।
  • डाकघर पत्रों को भेजने के लिए पिन कोड का उपयोग करते हैं।
  • डाकघर से सरकारी दस्तावेज में लगने वाली स्टैंप मिलती है।
  • डाकघर से सबसे पहले ज्यादा चिट्टियां तथा पैसे भेजे जाते थे लेकिन अब मोबाइल के आ जाने से लोगों ने
  • डाकघर का उपयोग कम कर दिया है।
  • डाकघर में वजन के अनुसार शुल्क लगता है।
  • भारतीय डाकघर में मनी ऑर्डर की सेवा 9 अगस्त 2003 में शुरू की गई।
  • डाकघर में कई बचत योजनाएं चलती रहती हैं जैसे कि सुकन्या योजना बुजुर्गों से संबंधित।
  • भारत में सबसे पहले डाकघर की शुरुआत वारेन हेस्टिंग्स ने की थी।
  • वर्ष 1983 से हिक्किम गांव में विश्व का सबसे उंचा पोस्ट आफिस चल रहा है।

अगर आपको डाकघर पर 10 वाक्य हिंदी निबंध अच्छा लगा है तो post office par 10 line essay को आप अपने अन्य दोस्तों के साथ सांझा कर सकते है फेसबुक और व्हाट्सप्प के जरिये और अगर आपको किसी विशेष टॉपिक पर शार्ट निबंध चाहिए तो आप कमेंट कर के बता सकते है।

आलू पर 10 वाक्य

स्वच्छ भारत अभियान पर 10 वाक्य

मेरा परिचय पर 10 वाक्य

Leave a comment Cancel reply

Save my name, email, and website in this browser for the next time I comment.

HiHindi.Com

HiHindi Evolution of media

डाकघर पर दस पंक्तियाँ 10 Lines on Post Office in Hindi

नमस्कार आप 10 Lines on Post Office in Hindi खोज रहे है या आप डाकघर पर दस पंक्तियाँ लाइन हिंदी व English में अपने बच्चों को लिखवाना चाहते हैं. तो यह लेख आपके लिए हैं. यहाँ सरल भाषा में छोटी छोटी पंक्तियाँ हिंदी व अंग्रेजी भाषा में दी गई हैं.

डाकघर पर दस पंक्तियाँ 10 Lines on Post Office in Hindi

प्रिय छात्र छात्राओं क्या आप हिंदी में डाकघर (Post Office) पर सरल व सुंदर 10 Lines का छोटा एस्से पढ़ना चाहते हो. यदि हाँ तो यह आर्टिकल आपके लिए ही हैं.

यहाँ आपकों हिंदी और अंग्रेजी भाषा में पोस्ट ऑफिस पर कुछ पंक्तियाँ कक्षा 1, 2, 3, 4, 5 std के बच्चों के लिए दी गई हैं. उम्मीद करते है आपकों ये बहुत पसंद भी आएगी.

Post Office 10 Lines in Hindi

1. डाकघर एक महत्वपूर्ण सरकारी कार्यालय होता है.

2. डाक घर के द्वारा पत्रों, मनी आर्डर आदि का आदान प्रदान किया जाता है.

3. डाकघर में पार्सल, मनी आर्डर भेज सकते है और लोग अपने पैसे भी जमा कराते है.

4. यहाँ पोस्टमास्टर, डाकिया, क्लर्क व चपरासी आदि काम करते हैं.

5. डाकघर प्रत्येक जिले, कस्बे और गाँव में होता है.

6. भारत में डाक सेवा की शुरुआत 1 अप्रैल 1854 को हुई.

7. डाकघर के बाहर पत्र जमा करने के लिए एक लाल रंग की पेटी होती है.

8. डाकघर पत्र भेजने के लिए पिन कोड प्रणाली का उपयोग करते है.

9. जिस डाक पते पर पत्र और मनी आर्डर पहुचाना होता है उस पते पर डाकिया पंहुचा देता है.

10. डाक घर केंद्र सरकार द्वारा संचालित उपक्रम हैं.

11. भारतीय डाक द्वारा कई प्रकार की बचत योजनाएं भी चलाई जा रही हैं.

10 Lines on Post Office in English

1. post office is very helpful for us.

2. through post office we send and receive letters and money orders.

3. post office are located in every town, village and city.

4. it is a branch of indian postal department.

5. post office runs by govt of india.

6. post masters, post men, clerk etc, are worked in post office.

7. their are a red box in front of the post office .

8. we insert our letters into this box.

9. postmen delivers the letters to correct address.

10. every post office has its own pin code.

Many types of savings schemes are also being run by India Post.

I hope guys. You must have liked this short article of a few lines in Hindi About the post office and 10 lines On the post office in English .

Here you have brought a short essay on the post office in Hindi , which will provide you information about this institute in fewer words.

डाकघर पर छोटा निबंध

डाकघर एक सरकारी कार्यालय हैं यहाँ डाक सम्बन्धी कार्य किये जाते हैं. डाकघर में कई विभाग होते हैं. कहीं पोस्टकार्ड, लिफ़ाफ़े और डाक टिकट मिलते हैं.

कहीं मनीऑर्डर (धनादेश) लिए जाते है. कही रजिस्ट्री व पार्सल का काम होता है. तार के लिए अलग विभाग होता है. डाकघर में बचत बैंक भी होता है.

प्रत्येक डाकघर के बाहर पत्र पेटियाँ होती है. लोग पत्र पेटियों में पत्र डालते हैं. डाकिया उन पत्रों को डाकघर ले आता हैं. वहां से इन पत्रों को पते के अनुसार अलग अलग जगह भेजा जाता हैं.

बाहर से आने वाले पत्रों को पते के अनुसार छाटा जाता हैं. फिर डाकिया उन पत्रों पर लिखे पतों के अनुसार उन्हें घर घर पहुंचाता हैं. सचमुच डाकघर लोगों की बहुत मदद करता हैं.

भारत में डाक सेवा एक प्राचीन और संसार की बड़ी प्रणाली हैं. हमारे देश में इसकी शुरुआत 1 अप्रैल 1854 को हुई थी, वारेन हेस्टिंग्स के समय कलकत्ता शहर में भारत का पहला डाकघर खोला गया था. रेलवे और सेना के अपने अलग से डाकघर होते हैं.

भारतीय डाक विभिन्न सरकारी योजनाओं तथा बचत योजनाओं को भी संचालित करता हैं. कई सारे लोग अपनी भविष्य निधि के लिए डाक घर में खाता खुलवाते हैं.

Leave a Reply Cancel reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Royal Mail blames government for general election postal ballot delays

Thousands of voters in constituencies across the UK are understood to be affected.

essay on postal service in hindi

Political reporter @alixculbertson

Tuesday 2 July 2024 13:09, UK

Councils unable to keep up with surge in demand for postal votes

Royal Mail has blamed the government for voters not receiving their postal ballots ahead of Thursday's election - and said there is "no backlog" in its system.

Earlier on Tuesday, Conservative minister Maria Caulfield told Sky News the government is "urgently" investigating why some people have still not received their postal ballots just two days before the election.

There are reports of thousands of postal ballots not being delivered in time, with postal affairs minister Kevin Hollinrake calling on Royal Mail "to do all they can" to make sure postal votes get to people in time.

Follow live general election updates

Follow Sky News on WhatsApp

Keep up with all the latest news from the UK and around the world by following Sky News

More than 90 constituencies, including those of cabinet ministers, have raised concerns about ballots failing to arrive, according to The Telegraph.

But Royal Mail said it is delivering postal votes as soon as they arrive in its network - and has called for a review of how the printing and administration of postal votes is handled before the ballot papers are given to Royal Mail.

A Royal Mail spokesman said: "We have no backlog of postal votes and, whilst we are not complacent, we remain confident that postal votes handed to us on time will be delivered prior to polling day.

More from Politics

Pic: Reuters

Politics latest: 'Elephant in the room' at Starmer's first NATO summit - as allies stress support for Ukraine

U.S. President Joe Biden reacts as he hosts a bilateral meeting with Britain's new Prime Minister Keir Starmer, on the sidelines of NATO's 75th anniversary summit, in the Oval Office at the White House in Washington, U.S. July 10, 2024. REUTERS/Evelyn Hockstein

Starmer says US relationship is 'stronger than ever' as he meets Biden in White House - with the help of personalised gift

essay on postal service in hindi

Starmer flexes diplomatic muscles at NATO summit - his first overseas visit as PM

"Where specific concerns have been raised, we have investigated and confirmed ballot packs are being delivered as soon as they arrive in our network.

"We would welcome a review into the timetable for future elections with all stakeholders to ensure that the system for printing and administering postal votes before they are handed to Royal Mail works as smoothly as possible."

It is understood Mr Hollinrake has not raised his concerns with Royal Mail directly and the postal company has been in regular contact with the elections minister and authorities ahead of, and throughout, the election period.

Before Royal Mail commented, Ms Caulfield told Sky News: "Kevin [Hollinrake] is taking this very seriously. He's in direct contact with the Royal Mail. Kevin is investigating this urgently.

"I know there's extra resources going into this to try and do a sweep of all the sorting offices and make sure they're out there."

Be the first to get Breaking News

Install the Sky News app for free

essay on postal service in hindi

She added she is aware of "a number of" constituencies where people have not yet received their postal votes.

Ms Caulfield said those who will be at home on polling day this Thursday and have received a postal vote late can take them to their local polling station.

However, she said it is a concern for those who are away as the deadline to apply for a proxy vote, where someone else is allowed to vote on your behalf, has passed.

Read more: Five things the main parties aren't talking about Manifesto Checker: The parties' key pledges

Concerns in Scotland

There are specific concerns for voters in Scotland as schools broke up for the summer holidays on Friday, so many families have already left the country.

The SNP's Stephen Flynn told Sky News the situation is a "shambles" and said his party had warned the Conservatives not to hold the election now as so many families in Scotland would be on holiday.

He said the government told them they could vote by post so the fact they have not received their ballots in time is "outrageous" and could affect the outcome of the vote where seats are tight.

He said the blame "lies at Sunak's doorstep".

Pic: iStock

25% voting by post

At the last general election, in 2019, 21% of people voted by post.

That number is expected to have increased by 20%, with more than 1.3 million postal vote applications made between 22 May and 19 June, according to the Local Government Association.

A spokesman said: "This unprecedented increase adds more pressure to an already complex process and overburdened system.

"Councils and electoral staff across the country have been doing their utmost to ensure the smooth running of this election and that people can vote.

"We are aware of reports of incidents where delays have happened. The postal vote system could benefit from review and more could be done to support Royal Mail and printers to be ready to deliver elections."

👉 Tap here to follow Politics at Jack and Sam's wherever you get your podcasts 👈

The deadline to register to vote by post was 19 June, with ballots normally arriving around a week before polling day.

Postal votes have to arrive by 10pm on polling day.

10 Lines On Post Office In Hindi And English Language

Table of Contents

10 Lines On Post Office In Hindi

5 lines on post office in hindi, 10 lines on post office in english, 5 lines on post office in english.

Sharing is caring!

Related Posts

10 lines on my school bag in hindi and english language, 10 lines on my favourite game football in hindi and english language, 10 lines on my favourite game carrom in hindi and english language.

Essay on Indian Postal Services

essay on postal service in hindi

In this essay we will discuss about Indian Postal Services. After reading this essay you will learn about: 1. Su bject-Matter on Indian Postal Services 2. Other Major Initiatives.

Essay # Su bject-Matter on Indian Postal Services:

Postal services is the cheapest mode of communication. India postal services have been growing over the years. The country is at present maintaining the largest network of post offices in the world with its total number of 1.55 lakh at the end of March, 2008, of which more than 1.39 lakh are in rural areas, which ranks first in the world.

At present, a post office covered on an average area of 21.16 sq km and a population of 6,623.

The long term objective is to locate a post office within 3 km of every village. During the Eighth Plan (1992-97), the Postal Department opened 500 Departmental sub-offices and 3000 extra-Departmental Branch Offices. The main thrust areas in the Eighth Plan were computerization and associated networks for electronic mail, money transfer, mechanical sorting, quality stamps and seals.

ADVERTISEMENTS:

During the Eighth Five Year Plan, 1546 extra departmental post offices and 466 departmental sub post offices have been opened. The Department of Post is accelerating its efforts to extend basic postal facilities on a contractual basis by utilizing the existing infrastructure of Panchayats in these areas.

The Panchayat Sanchar Sewa Scheme, formulated in this regard, can reduce dependence on budgetary resources for expanding postal facilities by needy areas and generate employment opportunities in such areas. Up to 31st March, 1997, 570 Panchayat Sanchar Sewa Kendras have been set up.

On 1st August 1986, the Postal Department introduced “Speed Post” services from 6 centres and later on the service has been extended to many centres. The speed post service has proved its efficiency both in respect of its quality service and earnings.

New Mail paradigm:

The mail profile in India Post has changed substantially with increase in volume of mail in Business-to-Customer and Business-to-Business segments. In line with this, India Post has leased three dedicated freighter aircraft for carriage of mail, parcel and logistics to and from the North-Eastern region operating six days a week on the Kolkata-Guwahati-Imphal-Agartala-Kolkata route and the metro cities such as Delhi, Mumbai, Chennai, Kolkata and Bangalore with Nagpur serving as the mail exchange hub.

India Post has also set up 162 Mail Business Centres and plans to set up Automatic Mail Processing System at Delhi, Kolkata, Hyderabad and Bengaluru and upgrade the existing ones at Mumbai and Chennai. The Postal Department has formulated the Panchayat Dak Sewa Scheme for providing basic postal facilities on a contractual basis by utilizing the existing infrastructure of Panchayats in these areas.

This scheme has the twin advantage of reducing dependence on budgetary resources for expanding postal facilities to needy areas and generating employment opportunities in such areas.

Considering the rapid changes in information and communication technology, the Department of Posts has given a new thrust to its programme of modernisation for. providing new value added services to customers.

During 1994-95. Metro Channel Service linking the six metros, the Rajdhani Channel linking Delhi with most of the State Capitals, a Business Channel with exclusive treatment to pin coded business mail, Hybrid Mail Service through electronic devices and Satellite Money Order Services have been introduced.

IT Induction:

Rapid introduction of information technology has not only changed the way post offices do business the world over, but also the business they do. While technology has enabled India post to add value to its traditional postal activities like mail processing, tracing and tracking of consignment etc. it has also offered new opportunities for introduction of various IT-enabled services like money transfer both domestic and international – electronic payment of the bills of various services providers and collection of fees.

At present 8,263 computerized post offices in the country serve as an IT backbone of the department. The Eleventh Flan has set the target to computerize the rest of the 17,878 departmental post offices, besides computerizing 64,000 selected branch post offices in the rural areas. 1,318 post offices/administrative offices were networked with the National Data Centre in Delhi by 2008.

The strong IT base would enable India Post to provide additional value-added services besides providing anywhere-anytime banking. The Post Office Savings Bank is the largest savings bank in the country in terms of network and having more than 16.43 crore accounts with deposits amounting to Rs 3,23,842.58 crore as on 31st March 2006.

Out of a total of 25.531 departmental post offices, 12,604 have been computerized. So far 1,304 post offices have been networked through leased lines with the National Data Centre. Further, 5,170 post offices have been networked through broadband.

The strong IT base has enabled Indian Post to offer a range of e-enabled services such as electronic Money Order (eMO), e-payment and instant Money Order (iMO) to customers. India post is planning to computerise and network all its post offices in the next two years.

Essay #  Other Major Initiatives :

In August 2007, India post launched its Logistics Post Air by introducing first freighter aircraft connecting Kolkata-Guwahati-Imphal-Agartala to expedite the delivery of mail and parcels in the North Eastern States. India Post has also made alliance with State Bank of India. The alliance with the SBI has provided India Post an opportunity to play a more meaningful role in the national effort to expand coverage of rural banking.

Rural Postal network of India Post has also emerged as an effective delivery mechanism for the Central and the State Government Schemes and Services. The IT-enabled network of the India Post has been successfully utilised for disbursement of wages to the rural beneficiaries of NREGA scheme in 19 districts of Andhra Pradesh and in all 22 districts of Jharkhand.

The scheme is also operative in other states as Karnataka, Madhya Pradesh and West Bengal. Moreover, Instant Money Order (iMO) service of India Post, which is available at 560 Post Offices, has revolutionaries money transfer in the country. It is a web based online domestic transfer in the country.

Related Articles:

  • 7 Means of Communication Available in India
  • 7 Major Problems of Health Services in India
  • Essay on the Services Sector of India
  • Essay on Indian Economy

Synctech Learn: Helping Students in, Nibandh,10 lines essays

10 lines on Post Office in Hindi - Few lines about post office

Today, we are sharing ten lines essay on Post Office . This article can help the students who are looking for information about Post Office in Hindi . This essay is very simple and easy to remember. The level of this essay is medium so any students can write on this topic. This article is generally useful for class 1, class 2, and class 3 .

few lines about post office

10 lines on Post Office in Hindi

  • डाक घर एक सरकारी संस्था है, जिसे अंग्रेजी में पोस्ट ऑफिस कहा जाता है।
  • डाक घर एक बहुत ही उपयोगी संस्था है इसकी मदत से हम बहुत ही कम खर्च में पत्र या सामान को एक जगह से दूसरी जगह भेज सकते है।
  • डाक घर से हमें अन्य कई सरकारी योजनाओं का भी लाभ मिलता है, जैसे बचत योजना, सुकन्या योजना, पेंसन योजना इत्यादि।
  • डाक घर की मदत से हम अपने दोस्त या रिश्तेदार को पैसा, मनी आर्डर के रूप में भेज और प्राप्त कर सकते है।
  • डाकिया, डाक घर में ही काम करते है, इनका काम लोगों द्वारा भेजे गए पत्र, या सामान को उनके पते पर पहुचाना होता है।
  • डाक घरों में पत्र या दस्तावेज को भेजने के दो प्रकार होते है, पहला साधारण डाक, और दूसरा स्पीड पोस्ट।
  • साधारण डाक को उसके पते पर पहुचने में थोडा ज्यादा समय लगता है और हम इसकी स्थिति को ट्रैक नहीं कर सकते है।
  • जबकि स्पीड पोस्ट द्वारा भेजे गए पत्र या दस्तावेज काफी जल्दी अपने पते पर पहुच जाते है।
  • और हम इसकी स्थिति को भी ऑनलाइन ट्रैक कर जान सकते है की हमारा पत्र या दस्तावेज भेजे गए पता पर पंहुचा या नहीं।
  • अन्य सरकारी लाभ या सामान, जैसे आधार कार्ड, पैन कार्ड, एटीएम कार्ड, बिमा के बोनस चेक इत्यादि, बन जाने के बाद यह हमारे घर के पते पर डाक द्वारा ही पहुचाये जाते है।

essay on postal service in hindi

Children in school, are often asked to write 10 lines about Post Office in Hindi . We help the students to do their homework in an effective way. If you liked this article, then please comment below and tell us how you liked it. We use your comments to further improve our service. We hope you have got some learning on the above subject. You can also visit my YouTube channel that is https://www.youtube.com/synctechlearn. You can also follow us on Facebook https://www.facebook.com/synctechlearn .

You might like

Post a comment, contact form.

  • Content Guidelines
  • Privacy Policy

Essay on Civil Service | Hindi | Personnel | Public Administration

essay on postal service in hindi

ADVERTISEMENTS:

Here is an essay on ‘Civil Service’ for class 11 and 12. Find paragraphs, long and short essays on ‘Civil Service’ especially written for school and college students in Hindi language.

Essay # 1. लोक सेवा का अर्थ (Meaning of Civil Service):

किसी भी राज्य के अन्तर्गत सेवाएँ दो प्रकार की होती हैं- सैनिक तथा असैनिक । लोक सेवा का सम्बन्ध राज्य की प्रशासनिक सेवा की असैनिक शाखा से है । फाइनर के अनुसार- ”लोक सेवा अधिकारियों का एक व्यावसायिक निकाय है जो स्थायी है वैतनिक है तथा कार्यकुशल है ।”

ग्लैडन के अनुसार- ”प्रशासन के क्षेत्र में तटस्थ विशेषज्ञों का व्यावसायिक निकाय जो निस्वार्थ रूप से बिना राजनीतिक दलीय विचारों अथवा वर्ग हितों से प्रभावित हुए राष्ट्र की सेवा से प्राणपण से जुटा है ।”

प्रारम्भ में राज्य का कार्यक्षेत्र शांति एवं व्यवस्था को बनाये रखने तक सीमित था किन्तु वर्तमान में राज्य के कार्य क्षेत्र का असाधारण रूप से विस्तार हुआ है । आज मानव जीवन का कोई भी पहलू राज्य के कार्य क्षेत्र से बाहर नहीं है । राज्य प्रशासनिक अधिकारियों एवं लोक सेवकों के माध्यम से ही इन बड़े हुए उत्तरदायित्वों की पूर्ति करता है ।

लोक सेवा के महत्व को सभी विद्वानों ने स्वीकार किया है । पिफनर के अनुसार- ”लोक सेवा को ‘प्रशासन की आधारशिला’ (Keystone of Administration) कहा जा सकता है ।” इसी प्रकार एल. डी. ह्वाइट ने लिखा है कि ”लोक सेवाएँ प्रशासनिक संगठन का एक ऐसा माध्यम है जिसके द्वारा सरकार अपने लक्ष्यों को प्राप्त करती है ।”

प्रारम्भ में कार्मिक प्रशासन में अप्रशिक्षित लोक सेवक होते थे किन्तु वर्तमान में प्रशासन की समस्त शक्तियाँ तकनीकी योग्यता प्राप्त लोक सेवकों के हाथों में केन्द्रित है ।

Essay # 2. लोक सेवा की प्रमुख विशेषताएँ (Chief Characteristics of Civil Service):

आधुनिक लोक सेवा की प्रमुख विशेषताएँ निम्नलिखित हैं:

(1) लोक सेवा ऐसे अधिकारियों का व्यावसायिक वर्ग है जो कुशल, प्रशिक्षित, स्थायी एवं वैतनिक होते हैं ।

(2) लोक सेवा का संगठन पदसोपान सिद्धान्त के आधार पर किया जाता है ।

(3) लोक सेवा के सभी सदस्यों को नियमानुसार निर्धारित वेतन दिया जाता है ।

(4) कार्य का श्रेय लोक सेवकों को नहीं वरन् जन-प्रतिनिधियों को प्राप्त होता है ।

(5) लोक सेवक निश्चित समय तक अपने पद पर कार्य करते हैं ।

(6) राजनीति के प्रति लोक सेवकों का दृष्टिकोण तटस्थ होता है ।

(7) लोक सेवक देश की संसद कार्यपालिका व न्यायपालिका के प्रति उत्तरदायी होते हैं ।

(8) लोक सेवकों को व्यक्तिगत हित से पूर्व सार्वजनिक हित को दृष्टिगत रखना होता है ।

(9) लोक सेवकों को उनके कार्यों व दायित्वों का समुचित प्रशिक्षण दिया जाता है ।

Essay # 3. लोक सेवा के कार्य ( Functions of the Civil Service):

लोक सेवा के कार्य इतने विस्तृत हैं कि उन सभी का वर्णन नहीं किया जा सकता है तथापि कुछ प्रमुख कार्यों का वर्णन निम्नलिखित है:

(1) सैद्धान्तिक दृष्टि से नीति निर्माण का कार्य मंत्रियों व संसद द्वारा किया जाता है किन्तु व्यवहार में यह कार्य लोक सेवकों के द्वारा किया जाता है ।

(2) लोक सेवा का सर्वाधिक महत्वपूर्ण कार्य कार्यपालिका सदस्यों को परामर्श देना है । चेम्बरलेन के अनुसार- ”मुझे संदेह है कि आप लोग (लोक सेवक) हमारे बिना काम चला सकते हैं लेकिन मुझे पूर्ण विश्वास है कि हम लोग (मन्त्रीगण आपके बिना काम नहीं चला सकते हैं ।”

(3) सरकार की नीतियों को कार्यान्वित करना लोक प्रशासक का कार्य है ।

(4) वर्तमान में संसद अत्यधिक कार्य भार के कारण अनेक जटिल विषयों को लोक सेवकों को सौंप देती है । इस प्रकार लोक सेवक को प्रत्यायोजित विधिनिर्माण का भी कार्य करना पड़ता है ।

(5) वर्तमान में लोक सेवकों को अर्द्धन्यायिक प्रकृति के भी कार्य करने पड़ते हैं ।

(6) लोक सेवाएँ विकास एवं परिवर्तन के अभिकरण के रूप में भी कार्य करती हैं ।

(7) लोक सेवकों को मन्त्रियों के निर्देशों के अनुसार देश के विकास हेतु अच्छी-से- अच्छी योजना बनाकर उसे क्रियान्वित करना होता है ।

(8) लोक सेवकों का यह परम कर्त्तव्य है कि जन कल्याण हेतु प्रशासन का पूर्ण निष्ठा से संचालन किया जाये ।

गुन्नार मिर्डल के अनुसार:

”एक कल्याणकारी राज्य वह है जिसके उद्देश्य आर्थिक विकास, पूर्ण रोजगार, सबको समान अवसर सामाजिक सुरक्षा, समाज के सभी वर्गों के लिए रहन-सहन के न्यूनतम स्तर की उपलब्धता न केवल आय के मामले में वरन् पोषण आवास स्वास्थ्य एवं शिक्षा आदि सभी क्षेत्रों में उपलब्ध हो ।”

लोक सेवाओं की नूतन प्रवृत्तियाँ (New Trends of Public Services):

वर्तमान में लोक सेवाओं में अनेक नूतन प्रवृत्तियाँ परिलिक्षित होने लगी हैं । कार्य भार में वृद्धि के साथ-साथ लोक सेवाओं की संख्या में भी वृद्धि होने लगी है । तकनीकी योग्यता से युक्त कर्मचारियों के कारण लोक सेवा में अनेकरूपता देखने में आ रही है । अब लोक सेवा का चरित्र नकारात्मक न रहकर सकारात्मक होता जा रहा है । अब लोक सेवा के लिये नैतिक एवं व्यावसायिक मापदण्डों पर अधिक बल दिया जा रहा है ।

आधुनिक समय में लोक सेवाओं की संख्या में निरन्तर वृद्धि हो रही है अब लोक कर्मचारी पहले की भांति पुलिस या राजस्व अधिकारी मात्र नहीं हैं वरन् विकास कार्यों में भी संलग्न रहते हैं । जनसाधारण के हितों का संवर्द्धन करना लोक सेवकों का प्रमुख लक्ष्य बन चुका है । लोक सेवा की तटस्थता की परम्परागत अवधारणा का स्थान अब ‘राजनीतिक प्रतिबद्धता’ लेती जा रही है ।

Related Articles:

  • Union Public Service Commission | Hindi | Essay | Public Administration
  • Recruitment of Civil Servants | Hindi | Personnel | Public Administration
  • Training of Civil Servants | Hindi | Personnel | Public Administration
  • Essay on the Civil Servants | Personnel | Public Administration

Upload and Share Your Article:

  • Description *
  • Your Name *
  • Your Email ID *
  • Upload Your File Drop files here or Select files Max. file size: 3 MB, Max. files: 5.

Hindi , Essay , Public Administration , Personnel , Civil Service , Essay on Civil Service

Upload Your Knowledge on Political science:

Privacy overview.

CookieDurationDescription
cookielawinfo-checkbox-analytics11 monthsThis cookie is set by GDPR Cookie Consent plugin. The cookie is used to store the user consent for the cookies in the category "Analytics".
cookielawinfo-checkbox-functional11 monthsThe cookie is set by GDPR cookie consent to record the user consent for the cookies in the category "Functional".
cookielawinfo-checkbox-necessary11 monthsThis cookie is set by GDPR Cookie Consent plugin. The cookies is used to store the user consent for the cookies in the category "Necessary".
cookielawinfo-checkbox-others11 monthsThis cookie is set by GDPR Cookie Consent plugin. The cookie is used to store the user consent for the cookies in the category "Other.
cookielawinfo-checkbox-performance11 monthsThis cookie is set by GDPR Cookie Consent plugin. The cookie is used to store the user consent for the cookies in the category "Performance".
viewed_cookie_policy11 monthsThe cookie is set by the GDPR Cookie Consent plugin and is used to store whether or not user has consented to the use of cookies. It does not store any personal data.

essayonhindi

100- 200 Words Hindi Essays 2024, Notes, Articles, Debates, Paragraphs Speech Short Nibandh

  • राज्य
  • महान व्यक्तित्व
  • इतिहास
  • आंदोलन

सेवा पर निबंध | Essay On Service In Hindi

सेवा पर निबंध Essay On Service In Hindi

सेवा पर निबंध Essay On Service In Hindi

हमारी सभ्यता तथा संस्कृति के विकास  के शुरुआती दौर पर नजर डालें  तो पता चलता है। कि सेवा का भाव प्राचीन काल से ही मानव स्वभाव तथा आचरण का अभिन्न अंग रहा है।

हालांकि विभिन्न कालों में हमारे पूर्वजों ने संघर्ष तथा जीवन के मध्य बेहतरीन सामंजस्य स्थापित करने तथा अपनी संस्कृति को बचाए रखने के अद्भुत प्रयास हमें उनकी सेवा भावना से अवगत करवाते हैं।

सेवा के कई रूपों को समाज में देखा जा सकता है। मानव सेवा को हमारे प्राचीन ग्रंथों में भी सर्वश्रेष्ठ बताया गया है। समाज सेवा सर्वाधिक प्रचलित रूप में उभर कर सामने आता है।

वर्तमान दौर में एक विद्यार्थी से लेकर नेता तथा साधु संत समाज सेवा के क्षेत्र में अपना योगदान दे रहे हैं।

निस्वार्थ भाव से की गई सेवा हृदय परिवर्तन का प्रमुख साधन है। निस्वार्थ  कर्तव्य रूपी सेवा भावना  को गीता तथा गांधी जी ने भी समर्थन दिया है।

समाज सेवा व्यक्ति को सामाजिक उत्तरदायित्व का बोध करवाती है। साथ ही साथ व्यक्ति को समाज के द्वारा जन्म से लेकर कामयाबी तक के सफर में जो  अमूल्य तथा बेजोड़ सहयोग किया जाता है। उससे उऋण होने का मौका भी मिलता है।

 सेवा का भाव व्यक्ति को जीवन में सर्वाधिक आत्म संतोष प्रदान करने के साथ  साथ self मोटिवेशन अथवा आत्म प्रेरणा का भाव जागृत भी करता  है। सेवा का भाव व्यक्ति को नेतृत्व करने की क्षमता प्रदान करता है।

सेवा भाव से प्रेरित व्यक्ति अच्छे लीडर बन कर सामने आते हैं और समाज के अन्य लोगों  के लिए भी प्रेरणा का स्रोत बन जाते हैं।

सेवा करने के लिए आमतौर पर ऐसी धारणा प्रचलन में है कि अमीर बन कर या फिर अधिक उम्र होने पर ही सेवा की जा सकती है। परंतु यह निराधार है। क्योंकि सेवा का कोई निश्चित स्वरूप या सीमा नहीं है.

सेवा के क्षेत्र असीम तथा विस्तृत है। एक छोटे बालक से लेकर विद्यार्थी जीवन तथा उसके बाद जीवन के हर मोड़ पर अलग-अलग रूपों में सेवा की जा सकती है।

 उदाहरण के लिए देखें तो बाढ़ तथा अकाल या महामारी के समय उद्योगपति लोग पूंजी का दान करते हैं  वही सरकार तथा प्रशासनिक व्यवस्थाएं बचाव और राहत कार्यों में लग जाती है.

ऐसे समय में आम नागरिक भी अपने स्तर पर ऐसे कदम भी उठा सकते हैं।जो राहत तथा बचाव कार्यों को तेजी प्रदान कर सकते हैं या फिर जागरूकता फैला सकते हैं।

समाज के अंतिम तबके के लोगों तथा गरीब असहाय व विकलांग व्यक्तियों के लिए की गई छोटी-छोटी सहायता एं डूबते को तिनके का सहारा का काम कर जाती है।

हमारे देश में 30% जनसंख्या आज भी निरक्षर है। जिसके चलते  ये लोग सरकारी योजनाओं तथा कार्यक्रमों का लाभ नहीं उठा पाते तथा तकनीकी दौर में दैनिक जीवन के डिजिटल कार्यों में अनेक परेशानियों का सामना करते हैं ऐसे लोगों की छोटी-छोटी सहायता ओं द्वारा उनको उनका हक दिलाया जा सकता है।

वर्तमान में भारत की जनसंख्या 135 करोड़  के आसपास हो गई है। ऐसे में परिवार नियोजन तथा जनसंख्या नियंत्रण संबंधी जागरूकता के अभाव में विभिन्न प्रकार की चुनौतियां उभर कर सामने आ रही है।

एक जागरूक नागरिक होने के नाते ग्रामीण तथा पिछड़े इलाकों में परिवार नियोजन संबंधी जागरूकता का प्रचार करते  समाज तथा राष्ट्रीय सेवा के उत्तरदायित्व का निर्वहन किया जा सकता है। जनसंख्या नियंत्रण से विभिन्न प्रकार के बेनिफिट्स देखने को मिलेंगे। 

हमारे समाज तथा धर्म में भी विभिन्न प्रकार के अंधविश्वास आडंबर  कुरीतियां विद्यमान है। जिनको लंबे समय से गलत तरीके से समाज में प्रस्तुत किया जा रहा है अब आवश्यकता है की इन सबसे निपट कर समाज को नई दिशा व दशा प्रदान की जाए विभिन्न संगठन तथा समूह इस दिशा में बेहतरीन कार्य कर रहे हैं।

सेवा के उपर्युक्त उत्कृष्ट रूपों के द्वारा समाज में नवीन क्रांति का आगाज हो सकता है। स्वस्थ भारत अभियान जैसे कई कार्यक्रमों को जन जन तक पहुंचा कर तथा आमजन की भागीदारी सुनिश्चित करके राष्ट्रीय सेवा का उत्कृष्ट उदाहरण प्रस्तुत किया जा सकता है हमारे आदि ग्रंथों में कहा गया है.

पहला सुख निरोगी काया इसलिए स्वच्छता ही स्वास्थ्य का निर्धारक है सार्वजनिक स्थलों की स्वच्छता का ध्यान तथा लोगों को इसके फायदों से अवगत करवा कर उन्हें प्रेरित किया जा सकता है।

भारत एक कृषि प्रधान देश है कृषि भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ की हड्डी है तथा भारत विश्व की महाशक्ति बने इसके लिए आवश्यक है। कि भारतीय कृषि को नवीन तकनीकों से जोड़ा जाए परंतु दुर्भाग्य है.

 हमारे देश में अधिकतर किसानों का  साक्षर ना होना कृषि के क्षेत्र  में व्यापक परिवर्तनों को सीमित कर रहे हैं ऐसे में किसानों को नवीन तकनीकों के बारे में बताकर राष्ट्र सेवा का अनुपम उदाहरण प्रस्तुत किया जा सकता है इससे ना केवल किसान समृद्ध होगा बल्कि देश की अर्थव्यवस्था को नई ऊंचाइयां  प्राप्त होगी।

सेवा करने के लिए सबसे प्रमुख गुणों में सहनशीलता तथा  धैर्य का होना परम आवश्यक है इनके साथ ही ईमानदारी ,समर्पण ,विनम्रता ,आत्मविश्वास, करुणा ,दया जैसे विलक्षण गुणों से युक्त व्यक्ति निस्वार्थ भाव से सेवा कर सकता है।

निस्वार्थ भाव से की गई सेवा व्यक्ति को नई पहचान प्रदान करती है तथा समाज में समरसता व भाईचारे को बढ़ावा देती है।

देश  के विभिन्न भागों  मे बहुत-सी  सामाजिक धार्मिक संस्थाएं व संगठन तथा स्वयंसेवक संघ समाज  सेवा के क्षेत्र में अपना अहम योगदान दे रहे हैं.

इससे पहले भी आर्य समाज ,ब्रह्म समाज तथा रामकृष्ण मिशन जैसे कई संगठनों ने समाज सेवा के क्षेत्र में कीर्तिमान स्थापित किए थे तथा समाज को नई दिशा प्रदान की।

सेवा के लिए संपूर्ण जीवन समर्पित करने वाले समाज सुधारको में मदर टेरेसा ,ज्योतिबा फुले ,स्वामी विवेकानंद, स्वामी दयानंद सरस्वती, राजा राममोहन राय डॉक्टर भीमराव अंबेडकर, महात्मा गांधी जैसे हजारों  महापुरुषों ने अपना जीवन समाज कल्याण तथा उत्थान में लगा दिया।

Essay On Spirit Of Service In Hindi

सेवा भावना वह मनः स्थिति है जिसमें कार्य किसी लाभ या स्वार्थ को ध्यान में रखकर नहीं किया जाता बल्कि इस भावना के साथ किया जाता है कि यह मेरी नैतिक जिम्मेदारी है. 

लोकसेवा में इसका अर्थ यह है कि वेतन और सुविधाओं पर विशेष ध्यान न देते हुए इस भाव से काम करना कि मैं अपनी शक्तियों का अधिकतम उपयोग सामाजिक कल्याण को साधनों में कैसे कर सकता हूँ.

सेवा भावना के विशेष लक्षण है

  • कार्य में ही आनन्द मिलना
  • यह नहीं सोचना कि मैं समाज को बेहतर बनाने के लिए कार्य कर रहा हूँ, बल्कि यह सोचना कि समाज के लिए कार्य करके मैं खुद को बेहतर बना सकता हूँ.
  • मन में यह भावना बनाए रखना कि मैं जो कुछ हूँ समाज के कारण हूँ इसलिए समाज के प्रति कार्य करना प्रमाणिक जीवन जीने की शर्त हैं.

' height=

हिन्दीकुंज,Hindi Website/Literary Web Patrika

  • मुख्यपृष्ठ
  • हिन्दी व्याकरण
  • रचनाकारों की सूची
  • साहित्यिक लेख
  • अपनी रचना प्रकाशित करें
  • संपर्क करें

Header$type=social_icons

समाज सेवा पर निबंध हिंदी में | essay on social service.

Twitter

समाज सेवा पर निबंध हिंदी में samaj seva par nibandh in hindi essay on social service an essay on social service essay on social services essay on soci

समाज सेवा पर निबंध हिंदी में

समाजिक नियमों का पालन, सामाजिक सुधार के लिए आन्दोलन, समाज सेवा ही मानव सेवा.

essay on postal service in hindi

Guest Post & Advertisement With Us

[email protected]

Contact WhatsApp +91 8467827574

हिंदीकुंज में अपनी रचना प्रकाशित करें

कॉपीराइट copyright, हिंदी निबंध_$type=list-tab$c=5$meta=0$source=random$author=hide$comment=hide$rm=hide$va=0$meta=0.

  • hindi essay

उपयोगी लेख_$type=list-tab$meta=0$source=random$c=5$author=hide$comment=hide$rm=hide$va=0

  • शैक्षणिक लेख

उर्दू साहित्य_$type=list-tab$c=5$meta=0$author=hide$comment=hide$rm=hide$va=0

  • उर्दू साहित्‍य

Most Helpful for Students

  • हिंदी व्याकरण Hindi Grammer
  • हिंदी पत्र लेखन
  • हिंदी निबंध Hindi Essay
  • ICSE Class 10 साहित्य सागर
  • ICSE Class 10 एकांकी संचय Ekanki Sanchay
  • नया रास्ता उपन्यास ICSE Naya Raasta
  • गद्य संकलन ISC Hindi Gadya Sankalan
  • काव्य मंजरी ISC Kavya Manjari
  • सारा आकाश उपन्यास Sara Akash
  • आषाढ़ का एक दिन नाटक Ashadh ka ek din
  • CBSE Vitan Bhag 2
  • बच्चों के लिए उपयोगी कविता

Subscribe to Hindikunj

essay on postal service in hindi

Footer Social$type=social_icons

IMAGES

  1. डाकिया पर निबंध Essay on Postman in Hindi

    essay on postal service in hindi

  2. डाकिया पर 10 लाइन निबंध

    essay on postal service in hindi

  3. डाकिया पर निबंध/10 lines essay on Postman in hindi/पोस्टमैन पर निबंध/Essay on Postman in hindi

    essay on postal service in hindi

  4. डाकिया पर शानदार निबंध/essay on postman in hindi/paragraph on the

    essay on postal service in hindi

  5. डाकिया पर 10 लाइन का निबंध l 10 Line Essay On Postman In Hindi l Postman Essay l Postman l Essay l

    essay on postal service in hindi

  6. Meaning And Characteristics Of Postal Services in Hindi

    essay on postal service in hindi

VIDEO

  1. 10 Lines Hindi & English essay on My School 🏫 Simple easy 10 points on My School |Best 10Lines essay

  2. पुस्तकालय पर निबंध/essay on library in hindi/paragraph on library

  3. सफलता पर हिंदी में निबंध

  4. 10 lines essay on National Postal Worker Day #essay #youtubeshorts

  5. डाकिया पर निबंध/10 lines essay on Postman in hindi/पोस्टमैन पर निबंध/Essay on Postman in hindi

  6. समाज सेवा पर निबंध

COMMENTS

  1. डाकघर पर निबंध हिंदी में

    डाकघर पर निबंध | Essay On Post Office In Hindi. कई बार स्टूडेंट्स को परीक्षा में डाक घर पर छोटा बड़ा निबंध Essay On Post Office In Hindi लिखने को कहा जाता हैं. अथवा भारतीय ...

  2. डाकघर पर निबंध

    डाकघर पर हिंदी निबंध - डाकघर की पूरी जानकारी इन हिंदी - डाकघर का इतिहास - डाकघर का महत्व - डाकघर की स्थापना - Essay Writing on Post Office in Hindi - Hindi Essay on Post Office - Dak ghar par Nibandh - Post Office Information in Hindi ...

  3. Post Office Essay in Hindi

    Indian Farmer Essay In Hindi: Mera Bachpan Essay In Hindi: Railway Platform Scene Essay In Hindi: Discipline Essay In Hindi: Holika Dahan Essay In Hindi: Holi Essay In Hindi: Dahej Pratha Essay in Hindi: Rabindranath Tagore Essay in Hindi: Swami Vivekananda Essay in Hindi: Cat Essay in Hindi: गाय का निबंध हिंदी ...

  4. डाकिया

    Hello Students! 🛍️ Welcome to our educational YouTube channel! 🌟 In this video, we present an engaging essay on "डाकिया" (The Postman) tailored for student...

  5. पोस्ट ऑफिस पर निबंध

    पोस्ट ऑफिस पर हिंदी निबंध - पोस्ट ऑफिस की पूरी जानकारी इन हिंदी - पोस्ट ऑफिस का इतिहास - पोस्ट ऑफिस का महत्व - पोस्ट ऑफिस की स्थापना - Essay Writing on Post Office in Hindi - Hindi Essay on Post ...

  6. डाकघर की उपयोगिता पर निबंध

    ADVERTISEMENTS: डाकघर की उपयोगिता पर निबंध | Essay on The Utility of the Post Office in Hindi! सरकार अपने विभिन्न विभागों के माध्यम से जनसेवा के कार्य संपन्न करती है । विभाग ...

  7. डाकिया पर निबंध 10 lines (Essay On Postman in Hindi) 100, 150, 200, 300

    डाकिया पर निबंध 500 शब्द (Long Essay on Postman 500 words in Hindi) जब हम डाकिया शब्द कहते हैं, तो खाकी वर्दी पहने एक पुरुष की छवि हमारे दिमाग में आती है जो साइकिल ...

  8. 10 Lines on Post Office in Hindi and English

    10 Lines on Post Office in English. Postal services is the cheapest mode of communication. Postal service started in India on 1 April 1854. Post offices are found in every city, town, and village. Post office carries our letters from one place to the other. Here the postman, postmaster clerk and peon are working.

  9. Indian Postal Service in Hindi: जानिए ...

    इस ब्लॉग में Indian Postal Service in Hindi के बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी गई है, इस बारे में जानना चाहते हैं तो इस ब्लॉग को अंत तक पढ़ें।

  10. 10 Lines on Post office in Hindi Language

    In this article, we are providing 10 Lines on Post office in Hindi. In this, you will get information about Post office in Hindi for students and kids for classes 2nd 3rd, 4th, 5th, 6th, 7th, 8th, 9th, 10th 11th, 12th. हिंदी में डाकघर पर 10 लाइनें, Short 10 lines essay on Post office.

  11. डाकघर पर 10 वाक्य

    10 Lines on Post Office in Hindi. डाकघर को अंग्रेजी में Post Office कहते हैं।. डाकघर में महत्वपूर्ण काम पत्रों का आदान प्रदान किया जाता है।. डाकघर के बाहर एक लाल ...

  12. डाकघर पर दस पंक्तियाँ 10 Lines on Post Office in Hindi

    10 Lines on Post Office in English. 1. post office is very helpful for us. 2. through post office we send and receive letters and money orders. 3. post office are located in every town, village and city. 4. it is a branch of indian postal department. 5. post office runs by govt of india. 6. post masters, post men, clerk etc, are worked in post ...

  13. Royal Mail blames government for general election postal ballot delays

    The postal vote system could benefit from review and more could be done to support Royal Mail and printers to be ready to deliver elections." Spreaker This content is provided by Spreaker , which ...

  14. 10 Lines On Post Office In Hindi And English Language

    आज हम डाकघर पर हिंदी और इंग्लिश में 10 पंक्तिया (10 Lines on Post Office in Hindi and English) लिखेंगे। यह 10 पॉइंट class 1, 2, 3, 4,

  15. Essay on Indian Postal Services

    In this essay we will discuss about Indian Postal Services. After reading this essay you will learn about: 1. Su bject-Matter on Indian Postal Services 2. Other Major Initiatives. Essay # Su bject-Matter on Indian Postal Services: Postal services is the cheapest mode of communication. India postal services have been growing over the years.

  16. 10 lines on Post Office in Hindi

    Today, we are sharing ten lines essay on Post Office. This article can help the students who are looking for information about Post Office in Hindi. This essay is very simple and easy to remember. The level of this essay is medium so any students can write on this topic. This article is generally useful for class 1, class 2, and class 3.

  17. Essay on Civil Service

    Article shared by : ADVERTISEMENTS: Here is an essay on 'Civil Service' for class 11 and 12. Find paragraphs, long and short essays on 'Civil Service' especially written for school and college students in Hindi language. Essay # 1. लोक सेवा का अर्थ (Meaning of Civil Service):

  18. Indian Postal Service

    The Department of Posts functioning under the brand name India Post , is a government operated postal system in India; it is generally referred to within India as "the post office". The Indian Postal Service, with 155,333 post offices, is the most widely distributed post office system in the world. The large numbers are a result of a long ...

  19. postal service in Hindi

    Translation of "postal service" into Hindi. डाक सेवा is the translation of "postal service" into Hindi. Sample translated sentence: Once we were organized, our system worked better than the government postal service! ↔ हमारा यह प्रबंध इतना सफल हो गया कि वह ...

  20. सेवा पर निबंध

    Essay On Spirit Of Service In Hindi. सेवा भावना वह मनः स्थिति है जिसमें कार्य किसी लाभ या स्वार्थ को ध्यान में रखकर नहीं किया जाता बल्कि इस भावना के साथ ...

  21. Essay On Postal Service In Hindi

    Essay On Postal Service In Hindi: OFF ON. CA residents: Do not sell my personal information; These cookies allow us to count visits and traffic sources so we can measure and improve the performance of our site. They help us to know which pages are the most and least popular and see how visitors move around the site. All information these ...

  22. Essay On Postal Service In Hindi

    Our Team of Essay Writers. Some students worry about whether an appropriate author will provide essay writing services to them. With our company, you do not have to worry about this. All of our authors are professionals. You will receive a no less-than-great paper by turning to us. Our writers and editors must go through a sophisticated hiring ...

  23. समाज सेवा पर निबंध हिंदी में

    स माज सेवा पर निबंध समाज सेवा पर निबंध हिंदी में samaj seva par nibandh in hindi essay on social service an essay on social service essay on social services essay on social service in Hindi समाज सेवा पर हिंदी में निबंध समाज सेवा पर निबंध ...

  24. Essay On Postal Service In Hindi

    Also, because having an essay writer on your team who's ready to come to homework rescue saves a great deal of trouble. is one of the best new websites where you get help with your essays from dedicated academic writers for a reasonable price. Flexible discount program. Specifically, buying papers from us you can get 5%, 10%, or 15% discount.